Sushant Death Case: Rhea Chakraborty released from jail after almost a month, reached home
File

मुंबई: सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत के मामले में सामने आए ड्रग्स (Drugs) में गिरफ्तार अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) को बेल मिल गई है। बॉम्बे हाईकोर्ट (Bombay High Court) ने रिया की ज़मानत अर्ज़ी पर फैसला देते हुए कुछ शर्तों के साथ रिया को बेल दे दी है। रिया गिरफ्तार के बाद से ही भायखला जेल में बंद थीं हैं। बेल मिलने के बाद रिया के वकील कोर्ट का आर्डर लेकर बुधवार शाम भायखला जेल पहुंचे और फॉरमैलिटीज पूरी करने के बाद रिया को जेल से रिहा कर दिया गया। जेल से छूटने के बाद रिया अपने सांताक्रूज़ स्तिथ घर पहुंचीं हैं। रिया लगभग महीने भर से जेल में बंद थीं। 

इन शर्तों के साथ हुई है बेल 

रिया चक्रवर्ती को 1 लाख के निजी मुचलके पर बेल मिली है। कोर्ट ने अपने आर्डर में रिया को पासपोर्ट जमा करने को कहा है। वहीं रिया को मुंबई से बाहर जाने के लिए मंजूरी लेनी होगी और जब भी रिया को पूछताछ के लिए बुलाया जाएगा उन्हें जांच के लिए हाज़िर होना होगा। 

रिया को बेल, शोविक को जेल

बॉम्बे हाईकोर्ट में बुधवार को 5 लोगों की ज़मानत पर कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया। इनमें रिया, उनका भाई शोविक, सुशांत का स्टाफर दीपेश सावंत, सैम्युल मिरांडा और अब्दुल बासित परिहार शामिल थे। कोर्ट ने शोविक और अब्दुल की बेल रिजेक्ट कर दी जबकि अन्य तीन को बेल दे दी गई।

दो बार हुई बेल रिजेक्ट 

रिया चक्रवर्ती की गिरफ्तारी के बाद रिया के वकीलों ने निचली अदालत में सबसे पहले बेल एप्लिकेशन फ़ाइल की थी जिसे कोर्ट ने ख़ारिज कर दिया था। इसके बाद रिया को जेल जाना पड़ा था। इसके बाद रिया ने सेशंस कोर्ट का रुख किया था जहां कोर्ट ने उनकी ज़मानत याचिका ख़ारिज कर दी थी। रिया के पास हालांकि बॉम्बे हाईकोर्ट का विकल्प था और उनके वकीलों ने बॉम्बे हाईकोर्ट को बेल के लिए अप्रोच किया था। रिया के वकील और एनसीबी का पक्ष सुनने के बाद कोर्ट ने अपना फैसला 29 सितम्बर को सुरक्षित रख लिया था जिसके बाद बुधवार को कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया।    

रिया पर आरोप है कि वो ड्रग्स  के खरीद फिरोख्त में शामिल थीं 

एनसीबी के पास कुछ व्हाट्सएप चैट हैं जिनमें ड्रग्स को लेकर बातचीत हुई है। रिया पर सुशांत सिंह राजपूत के लिए ड्रग्स की खरीद फिरोख्त करने का आरोप है। एनसीबी के अनुसार, रिया और उनके भाई शोविक की कई ड्रग्स पेडलर्स संग चैट भी सामने आई थी। हालांकि शुरू में इसमें लिप्त होने की बात से साफ इनकार किया था लेकिन रिया के भाई शोविक ने जब चैट से जुड़ी हकीकत बताई तो रिया के साथ आगे की पूछताछ में सच सामने आगा था। रिया से एनसीबी ने लंबी पूछताछ की थी जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था। एनसीबी ने उनपर धारा 27ए के तहत केस दर्ज किया था जो NDPS एक्ट में कठोर कानून है और इसके सेक्शन के चलते रिया की दो बार बेल रिजेक्ट हुई थी।  

रिया की ज़मानत पर उनके वकील बोले ‘सत्यमेव जयते’  

रिया के वकील, एडवोकेट सतीश मानशिंदे ने कहा, “रिया की गिरफ्तारी और कस्टडी की सुरवात से ही ज़रूरत नहीं थी। सत्य और न्याय की जीत हुई है और अंततः तथ्यों और कानून पर प्रस्तुतियाँ स्वीकार की गई हैं। तीन केंद्रीय एजेंसियों द्वारा हाउंडिंग और विच हंट  ख़त्म होना चाहिए। हम सत्य के लिए प्रतिबद्ध हैं। सत्यमेव जयते।”