Pic Credit: Twitter
Pic Credit: Twitter

    राजस्थान के सिरोही में एक ऐसी घटना घटी, जिसकी चर्चा लोगों के जुबान पर है। दरअसल जब एक रिश्वतखोर तहसीलदार को एसीबी की टीम पकड़ने पहुंची तो उसने कुछ ऐसा काम किया। जिसे देखकर सभी की आंखे खुली की खुली रह गई। पिंपवाडा के सिरोही में तहसीलदार ने सरकारी जमीन का टेंडर पास करने के लिये वहा के ही एक शख्स से 5 लाख रूपये कि रिश्वत मांगी थी। लेकिन जैसे ही एसीबी को भनकर हुई तो वह सीधे तहसीलदार कल्पेश जैन के घर छापा मारने पहुंच गई।

    जब इस बात की जानकारी  तहसीलदार कल्पेश जैन मिली तो उसने अपना घर अंदर से लॉक कर दिया। एसीबी की चंगुल से बचने के लिए उसने घर में रखे तकरीबन 15 लाख रुपयों को आग लगा दी।  कल्पेश जैन 15 लाख रूपये को गैस के चूल्हे पर जलाने लगा लेकिन पूरी नोट नहीं जल पाई थी। इसी दरम्यान एसीबी की टीम ने कड़ी मशक्कत के बाद दरवाजा तोड़ दिया।

    गौरतलब हो कि तहसीलदार तेंदूपत्ता व आवल छाल में सरकारी  जमीन का  टेंडर पास करने  के लिए 5 लाख रूपए की तय की गई थी। जब वह बकाया 1 लाख रूपए लेने गये, तभी  एसीबी कि टीम में को मिली जानकारी के अनुसार उन्हें ट्रैप किया और  उसके स्थानीय निवास 3 से 4 बजे के करीब पहुचंकर उसे रंगे हाथों पकड़ लिया।  तसीलदार कल्पेश जैनं को हिरासत में लेकर पूछताछ जारी है।