सुबह श्रद्धालु शाम को आतंकी: पंजाब डीजीपी

पंचकुला: करतारपुर जाने वाले श्रधालुयों को लेकर पंजाब के डीजीपी दिनकर गुप्ता ने विवादित बयान दिया हैं. उन्होंने कहा, " सुबह लोग करतारपुर श्रद्धालु बनकर जाते हैं और शाम को आतंकी बनकर लौटते

पंचकुला: करतारपुर जाने वाले श्रधालुयों को लेकर पंजाब के डीजीपी दिनकर गुप्ता ने विवादित बयान दिया हैं. उन्होंने कहा, " सुबह लोग करतारपुर श्रद्धालु बनकर जाते हैं और शाम को आतंकी बनकर लौटते हैं." हरियाणा के पंचकुला में शनिवार को आयोजित एक कार्यक्रम उन्होंने यह बात कही. साथ में उन्होंने सुरक्षा पर चिंता भी जाहिर की.

आतंकी करते हैं प्रभावित 
डीजीपी ने कहा, " पिछले कई सालों से करतारपुर कोरिडोर को खोलने कि मागं की  जारही थी. लेकिन ऐसा नही किया गया." उन्होंने कहा, " अगर कोई साधारण व्यक्ति सुबह करतारपुर जाता है. वह वहां छह घंटे रुकता है. जिसके बाद वहां से ट्रेंड आतंकी बनकर लौटाता है." लोगों को प्रभावित करने का अंदेशा जताते हुए उन्हीने कहा, " वह कई ऐसे लोग हैं जो जाने वाले श्रधालुयों को प्रभावित करने कि कोशिश करते हैं.  वह उन लोगों को IED बनाने कि ट्रेनिंग के कर भारत भेज सकते हैं.

फ्री वीजा पर उठाए सवाल
करतारपुर जाने के लिए फ्री वीजा पर सवाल खड़े करते हुए दिनकर गुप्ता ने कहा, " करतारपुर जाने वाले लोगों को सरकार फ्री वीजा देकर भेज रही हैं. जिसके वजह से सुरक्षा पर प्रश्न खड़ा हो रहा हैं." उन्होंने कहा, " मैं इंटेलिजेंस ब्यूरो में 8 सालों तक था और इन चिज़ों को देखता था. सुरक्षा को देखते हुए कॉरिडोर को खोलना बड़ी चुनौती होगी. लेकिन लोगों कि मांग मानते हुए सुरक्षा को ठंडे बसते में डाल दिया. "

गौरतलब है कि, देश की आजादी के बाद से सिख समुदाय सरकार से करतारपुर कोरिडोर निर्माण करने कि मांग कर रहे थे. जिसपर कोई निर्णय नहीं हुआ था. पिछले साल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा करतारपुर कॉरिडोर निर्माण करने की घोषणा किया गया था. जिसके बाद नौ सितंबर 2019 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत के हिस्से वाले कोरिडोर का उद्घाटन किया था. वहीँ पाकिस्तान के हिस्से वाले का इमरान खान ने किया था.