rajeev

नयी दिल्ली. दिल्ली की एक अदालत ने जासूसी मामले में गिरफ्तार पत्रकार राजीव शर्मा की पुलिस हिरासत सोमवार को सात दिन के लिए बढ़ा दी। शर्मा को सरकारी गोपनीयता कानून के तहत गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने बताया कि मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट पवन सिंह राजावत ने शर्मा के दो सहयोगियों–एक चीनी महिला और एक नेपाली नागरिक की पुलिस हिरासत भी 28 सितंबर तक के लिए बढ़ा दी।

आरोपियों को पुलिस हिरासत की अवधि पूरी होने पर अदालत में पेश किया गया था और पुलिस ने उनकी हिरासत की अवधि बढ़ाने का अनुरोध किया। स्वतंत्र पत्रकार शर्मा को 14 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था।

दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ ने अदालत से कहा कि उसे रक्षा मंत्रालय से जुड़े पहलू के बारे में पूछताछ करने की जरूरत है क्योंकि शर्मा के पास से रक्षा संबंधी कुछ गोपनीय दस्तावेज बरामद हुए हैं। अदालत ने पुलिस को शर्मा के वकील अदिश अग्रवाल को प्राथमिकी की प्रति सौंपने का भी निर्देश दिया।

सुनवाई वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से हुई और प्रेस को कार्यवाही में शामिल होने की अनुमति दी गई। पुलिस के मुताबिक, मुखौटा कंपनियों के जरिए शर्मा को मोटी रकम का भुगतान करने को लेकर चीनी महिला और उसके नेपाली सहयोगी को गिरफ्तार किया गया है। (एजेंसी)