Javadekar

नई दिल्ली. जवाहरलाला विश्वविद्यालय में छात्रों पर हुए हमले को लेकर शुरू प्रदर्शन को समर्थन देने पहुची अभिनेत्री दीपिका पादुकोण को लेकर शुरू विवाद पर केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, "

नई दिल्ली. जवाहरलाला विश्वविद्यालय में छात्रों पर हुए हमले को लेकर शुरू प्रदर्शन को समर्थन देने पहुची अभिनेत्री दीपिका पादुकोण को लेकर शुरू विवाद पर केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, " लोकतंत्र में कोई भी कही भी जा सकता है." मंत्री मंडल के बैठक के बाद संवाददाताओ से बात करते हुए एक सवाल के जवाब में यह कहा.

केंद्रीय मंत्री ने कहा, " यह लोकतांत्रिक देश है। कोई कलाकार ही क्यों, कोई भी सामान्य व्यक्ति कहीं जा सकता है, अपनी राय रख सकता है। इसमें कोई आपत्ति नहीं, कभी किसी ने आपत्ति की भी नहीं."

बतादे कि, जेएनयू हुई हिंसा को लेकर शुरू प्रदर्शन में मंगलवार को आचानक दीपिका पादुकोण अपनी टीम के साथ कैम्पस पहुच गई, जहा उन्होंने छात्र संघ अध्यक्ष आईशी घोष से मुलाकात भी की. प्रदर्शन को समर्थन देने के लिए दीपिका वह करीब एक घंटे तक  रही.

जेएनयू में हुई हिंसा को लेकर हुए सवाल पर जावड़ेकर ने कहा कि, " देश के किसी हिस्से में कहीं भी हिंसा हो, तब हम उसकी भर्त्सना करते हैं। हमारा परिपक्व लोकतंत्र है और सभी को अपनी राय रखने का अवसर है। इसलिए हिंसा का देश में कोई स्थान नहीं है."

गौरतलब है कि, पाच जनवरी को जवाहरलाला विश्वविद्यालय में छात्रों का प्रदर्शन शुरू था, तभी बाहर से आए ४० से ५० लोगों ने छात्रों पर हमला कर दिया. इस हमले में वह मौजूद 26 से अधिक छात्र घायल हो गए, जिनमें से 12 के सिर में गंभीर चोटें आईं। घायलों में छात्र संघ अध्यक्ष आईशी घोष और एबीवीपी के कार्यकर्ता सहित महिला शिक्षक भी शामिल थे। जेएनयू छात्रसंघ और एबीवीपी ने एक दुसरे पर  मारपीट व तोड़फोड़ का एबीवीपी पर आरोप लगाया है.

सोशल मीडिया पर छपाक को बायकॉट करने की अपील
अभिनेत्री दीपिका पादुकोण के जेएनयु में शुरू प्रदर्शन को समर्थन  देने पहुचने पर भाजपा ने कड़ी आपत्ति जताई. दिल्ली प्रदेश भाजपा प्रवक्ता तेजिंदर बग्गा ने दीपिका की आने वाली फिल्म छपाक का बायकॉट करने की अपील कर दी. वही देखते देखते सोशल मीडिया पर उनकी फिल्म के बायकॉट करने की अपील ट्रेंड करने लगा.