Gandhinagar Municipal Corporation elections postponed due to corona virus
Representational Pic

    नई दिल्ली: बंगाल में विधानसभा चुनाव (West Bengal Assembly Election) के मद्देनजर पहले चरण के लिए 30 सीटों पर मतदान हो रहा है। 73 लाख से अधिक  मतदाता वोट के जरिए 191 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला करने वाले हैं। एक तरफ मतदान जारी है तो दूसरी तरफ चुनाव आयोग (EC) ने आंकड़े जारी बताया की दोपहर 2 बजे तक 54.90 फीसदी वोट पड़े हैं। इन आंकड़ों पर टीएमसी भड़क गई है। तृणमूल कांग्रेस के सांसद डेरेक ओ ब्रायन का कहना है कि वोटिंग के समय आंकड़ों में बदलाव करना सही नहीं है। वैसे वोटिंग प्रतिशत जब भी ज्यादा रहा है बदलाव हुआ है। ऐसे में वोटों के ये आंकड़े कहीं कमल खिलने के संकेत तो नहीं दे रहे हैं। 

    बता दें कि पहले चरण में आज दोपहर 2 बजे तक 54.90 फीसदी वोटिंग हुई है। ज्यादा वोटिंग होना मतलब बदलाव का संकेत है। ऐसे में कहीं सूबे में कमल तो नहीं खिलने जा रहा है ये सवाल उठ रहा है। हालांकि पहला चरण होने के चलते यह कहना जल्दबाजी है और नतीजे आने के बाद ही इन सवालों के जवाब मिलेंगे। 

    बंगाल में बंपर मतदान जारी-

    ज्ञात हो कि सूबे में एक तरफ मतदान जारी है तो दूसरी ओर बीजेपी और टीएमसी के नेताओं की तरफ से एक दुसरे पर आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला भी जारी है। टीएमसी ने बीजेपी पर वोटरों को डराने का आरोप लगाया है। साथ ही ममता की पार्टी टीएमसी ने पूर्वी मेदिनीपुर जिले के रामनगर विधानसभा क्षेत्र के बूथ नंबर 16 के बाहर भारतीय जनता पार्टी  कार्यकर्ताओं की तरफ से खाने का टिफिन देने का आरोप लगाया है।