File Photo
File Photo

    कोलकाता: पश्चिम बंगाल (West Bengal) में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने बुधवार को पूर्व पत्रकार स्वपन दासगुप्ता को ‘‘जल्दबाजी” में राज्यसभा के लिए फिर से नामित किए जाने पर भाजपा नीत केंद्र सरकार की आलोचना की। दासगुप्ता ने राज्यसभा से त्याग पत्र देकर पश्चिम बंगाल में भाजपा के टिकट पर विधानसभा चुनाव लड़ा था, लेकिन हार गए थे। 

    गृह मंत्रालय की अधिसूचना के अनुसार राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दासगुप्ता को राज्यसभा के लिए फिर से मनोनीत किया, ताकि उनके इस्तीफे से खाली हुई सीट को भरा जा सके। तृणमूल कांग्रेस के प्रवक्ता कुणाल घोष ने कहा कि दासगुप्ता को जहां राज्यसभा के लिए फिर से मनोनीत कर दिया गया। 

    वहीं लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने तृणमूल सांसदों-सुनील मंडल और शिशिर अधिकारी को अयोग्य ठहराए जाने के आग्रह का कोई जवाब नहीं दिया जो भाजपा में शामिल हो गए, लेकिन इस्तीफा नहीं दिया। (एजेंसी)