File Photo
File Photo

नयी दिल्ली. केन्द्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने शनिवार को कहा कि पूर्वोत्तर में महिलाएं कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ लड़ाई का नेतृत्व कर रही हैं और कोविड-19 प्रबंधन के लिए क्षेत्र के एक मॉडल के रूप में उभरने में मदद कर रही हैं। एक वेबिनार के माध्यम से पूर्वोत्तर क्षेत्र सामुदायिक संसाधन और प्रबंधन कार्यक्रम से जुड़े विभिन्न स्वयं सहायता समूहों के साथ बातचीत करते हुए सिंह ने कहा कि पूर्वोत्तर क्षेत्र की “मातृशक्ति” कोरोना वायरस महामारी के सफल प्रबंधन करने के बाद आर्थिक गतिविधियों के सभी क्षेत्रों में भी नेतृत्व कर रही है।

उन्होंने कहा, “महिलाओं ने महामारी के खिलाफ लड़ाई में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है और पूर्वोत्तर क्षेत्र को कोरोना वायरस प्रबंधन के एक मॉडल के रूप में उभरने में मदद की है जहां बहुत ही सीमित मामले हैं और अब तक सभी आठ राज्यों में सिर्फ 17 मौतें हुई हैं।” सिंह ने कहा कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के तहत पिछले छह वर्षों में क्षेत्र विकास के एक मॉडल के रूप में उभरा है। उन्होंने कहा कि पूर्वोत्तर क्षेत्र कोविड-19 के बाद के युग में अपने विशाल प्राकृतिक और मानव कौशल संसाधनों के बल पर भारत को एक आर्थिक शक्ति के रूप में उभरने की दिशा में ले जाएगा। (एजेंसी)