aus-vs-ind-india-top-world-test-championship-table-with-historic-win-at-gabba
Image tweeted by @iamVkohli

बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी टेस्ट सीरीज (Border Gavaskar Trophy Test Series) के चौथे और अंतिम टेस्ट मैच में भारत ने आज ब्रिसबेन के गाबा (Gaba) के मैदान में कीर्तिमान बना दिया। भारत ने ऑस्ट्रेलिया को लगातार दूसरी टेस्ट सीरीज में धूल चटाई। ताज़ा सीरीज के चौथे मैच में ऑस्ट्रेलिया को हराकर भारत ने इस सीरीज को 2-1 से जीत लिया और ब्रिस्बेन (Brisbane Fourth Test Match, Australia vs India, 2021) में ऑस्ट्रेलिया की 31 टेस्ट का अजेय सिलसिला भी समाप्त हो गया। 

Google के CEO सुंदर पिचाई (Sundar Pichai) भी भारत किनिस ऐतिहासिक जीत पर खुद को रोक न सके और भारतीय क्रिकेट टीम को बधाई देते हुए तारीफ़ ।वीं ट्वीट किया कि यह सबसे महान टेस्ट सीरीज में से एक है।

सुंदर पिचाई ने भारत और ऑस्ट्रेलिया दोनों की सराहना की और लिखा- “यह सबसे बड़ी टेस्ट सीरीज जीत में से एक है। भारत को बधाई और ऑस्ट्रेलिया ने भी अच्छा खेल दिखाया। क्या सीरीज थी !” 

भारतीय क्रिकेट टीम के नियमित कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli, Captain Indian Cricket Team) 4 मैचों की ‘बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफ़ी टेस्ट सीरीज, 2020-21’ सीरीज के सिर्फ़ पहले मैच में शामिल थे, जिसके बाद वो स्वदेश भारत लौट आए थे। क्योंकि, वो पिता बनने वाले थे और बीसीसीआई से उन्होंने पैटर्निटी लीव भिनले रखी थी। हालांकि, बाकी के 3 टेस्ट मैचों की कप्तानी का जुआ अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) के कंधों पर था, लेकिन टीम इंडिया के कप्तान क्रिक्रेट की दुनिया के ‘एंग्री यंग मैन’ विराट कोहली प्रेरक के तौर पर टीम के साथ लगातार बने हुए हैं और हर ख़ास लम्हे ट्वीट कर भारतीय टीम का मनोबल बढ़ाते रहे हैं। अभी हाल में ही बेटी के पिता बने विराट कोहली (Virat Kohli Daughter) के लिए ऑस्ट्रेलिया पर भारत की ऐतिहासिक जीत बेहद महत्वपूर्ण पल था। कोहली खुशी से मानो उछाल पड़े। उन्होंने अपनी खुशी ट्वीट कर शेयर किया-

“क्या जीत है। यसससस। जिन्होंने भी एडिलेड के बाद हम पर शक किया, वह सावधान हो जाएं और नोटिस करें। यह अनुकरणीय प्रदर्शन है। लेकिन ये धैर्य और दृढ़ संकल्प था, जो पूरी तरह से उभरकर सामने आया। सभी खिलाड़ियों और मैनेजमेंट को वेल डन। इस जीत का आनंद लो साथियों। चीयर्स।”

ऑस्ट्रेलिया पर मिली इस ऐतिहासिक जीत के साथ अब भारतीय टेस्ट टीम ‘वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप’ (ICC World Test Championship) को लेकर ज़ाहिर है खुद को और नज़दीक पा रही है। इस चैपियनशिप का फाइनल इंग्लैंड के ऐतिहासिक मैदान लॉर्ड्स पर होगा।

32 साल और 31 टेस्ट बाद ऑस्ट्रेलिया का टूटा घमंड   BOLD

सिडनी टेस्ट (Sydney Third Test Match India-Australia, 2021) में जब भारतीय टीम के प्रमुख स्पिन गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन ने अपने डिफेंसिव खेल से क्रीज़ पर अंगद के पैर जमा दिए थे और ऑस्ट्रेलिया के पसीने छूट गए थे, उसी मैच को याद किया जा रहा है यहां। 

उस खेल में जब विकेट के पीछे मौजूद विकेटकीपर ऋषभ पंत लगातार टोंट मार रहे थे कि ‘आपसे गाबा में मिलेंगे’। तब उस चुनौती को ऑस्ट्रेलिया ने हल्के में ले लिया था, लेकिन दिलो-दिमाग पर गाबा में पिछली कई जीत का गुमान भी था। 

इसलिए उसने ऐसा निश्चित मान लिया था कि ब्रिसबेन के गाबा के मैदान में टीम इंडिया को धूल ज़रूर चटा देगा। लेकिन, सारा घमंड चूर-चूर हो गया। ‘बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी’ टेस्ट सीरीज (Border-Gavaskar Trophy Test Series Australia vs India, 2020-21) के चौथे और अंतिम मैच में ऋषभ पंत और वॉशिंगटन सुंदर ने मैच के आख़िरी सेशन में धमाकेदार खेल दिखाया। इस सत्र में भारत ने ऑस्ट्रेलिया की तरफ से दिए गए 326 रन के लक्ष्य को पाने में महत्वूर्ण योगदान दिया।

विकेटकीपर-बल्लेबाज ऋषभ पंत (Wicketkeeper Rishabh Pant) ने चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) के आउट होने के बाद भारत के रन गति को बरकरार रखा और 138 गेंदों का सामना करते हुए 89 रनों की बेहतरीन पारी खेली। उनके शानदार प्रदर्शन के मद्देनजर उन्हें ‘मैन ऑफ द मैच’ (Man of the Match, Brisbane Fourth Test Match India-Australia, 2021) से नवाजा गया।

इससे पहले भारतीय टीम के अनुभवी और संयमी धाकड़ बल्लेबाज़ चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara)ऑस्ट्रेलिया की घातक गेंदबाजी आक्रमण के सामने दीवार बनकर विरोधी टीम को हैरान और परेशान कर दिया। उन्होंने इस पारी में 211 गेंदों का सामना करते हुए 52 रन बनाए। लेकिन, इस मैच में रनों की गति के साथ लक्ष्य को पाने कि दिशा टारगेट चेज़ करने के महानायक ऋषभ पंत रहे।

– विनय कुमार