केंद्रीय कर्मचारियों को 3% DA पर बड़ी खुशखबरी, इस फार्मूले से 66,960 रुपये बढ़ेगी सैलरी

    नई दिल्ली. कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन Employees’ Provident Fund Organisation (EPFO) दिवाली (Diwali) से पहले कर्मचारियों को त्योहारी तोहफा देने जा रहा है। कर्मचारियों को फेस्टिव सीजन में जल्दी ही 3 बड़ी सौगातें मिलने वाली हैं। पहली सौगात में कर्मचारियों के महंगाई भत्ते (DA) से जुड़ी, है क्योंकि एक बार फिर इसमें बढ़ोतरी होने का अनुमान है। दूसरी सौगात,  सरकार से चल रही DA एरियर पर बातचीत पर कोई नतीजा निकल सकता है। जबकि तीसरी सौगात प्रोविडेंट फंड (PF) से जुड़ी हुई है। बता दें कि, पीएफ EPFO दिवाली से पहले ही वित्त वर्ष 2020-21 का ब्याज (PF Interest) भुगतान दिवाली से पहले सदस्‍यों के खातों में कर सकता है।

    DA में में फिर हो सकता इजाफा  

    जुलाई 2021  के महंगाई भत्ते (DA) में बढ़ोतरी का ऐलान अभी तय नहीं किया गया है। 50 लाख कर्मचारियों (Central Govt Employees) और 61 लाख पेंशनर्स का महंगाई भत्ता 1 जुलाई से बढ़ने जा रहा है। इस बीच जनवरी से मई 2021 के ऑल इंडिया कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स (AICPI) आंकड़ों से पता चलता है कि इसमें 3 फीसदी तक की बढ़ोतरी हो सकती है। जिसके तरह 3 फीसदी और बढ़ने के बाद महंगाई भत्ता 31 फीसदी हो जाएगा। केंद्र सरकार दिवाली के आसपास DA बढ़ाने का ऐलान कर सकती है। इस बढ़ोतरी का फायदा उन्हें सैलरी में इजाफे के रूप में होगा।

    डीए एरियर पर जल्द आएगा फैसला

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तक 18 महीने से पेंडिंग एरियर का मामला पहुंच गया है, जिस पर जल्द ही फैसला आ सकता है। केंद्रीय कर्मचारियों को उम्मीद है कि दिवाली से पहले महंगाई भत्ता उन्हें मिल जाएगा। गौरतलब हो कि वित्त मंत्रालय ने कोविड-19 महामारी की वजह से मई 2020 में DA बढ़ोतरी को 30 जून 2021 तक के लिए रोक दिया था।

     दिवाली से पहले कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) के 6 करोड़ से ज्यादा अकाउंट होल्डर्स को बड़ी खुशखबरी मिल सकती है। पीएफ खाताधारकों के बैंक खाते में जल्दी ही ब्याज का पैसा ट्रांसफर हो सकता है। ईपीएफओ जल्द ही अपने ग्राहकों के खातों में 2020-21 के लिए ब्याज ट्रांसफर करने की घोषणा कर सकता है। 

    31%- DA का क्या होगा फार्मूला 

    7th Pay Commission मैट्रिक्स के मुताबिक यदि जून में महंगाई भत्ता 3 परसेंट  महंगाई भत्ता बढ़ता है तो कुल DA 31 परसेंट हो जाएगा। केंद्रीय कर्मचारियों के लेवल-1 की सैलरी रेंज 18,000 रुपये से लेकर 56, 900 रुपये तक है। अब 18,000 रुपये की बेसिक सैलरी पर कुल सालाना महंगाई भत्ता 66,960 रुपये होगा। लेकिन अंतर की बात करें तो सैलरी में सालाना इजाफा 30,240 रुपये होगा।

    जानें- कैसे होगी गणना?

    1. कर्मचारी की बेसिक सैलरी 18,000 रुपये

    2. नया महंगाई भत्ता (31%) 5580 रुपये/माह

    3. अबतक महंगाई भत्ता (17%) 3060 रुपये/माह

    4. कितना महंगाई भत्ता बढ़ा 5580-3060 = 2520 रुपये/माह

    5. सालाना सैलरी में इजाफा 2520X12= 30,240 रुपये