Gift to government employees on Makar Sankranti, 3% increase in dearness allowance

    नई दिल्ली: केंद्र की मोदी सरकार (Modi Government) ने सरकारी कर्मचारियों (7th Pay Commission News) को बड़ा तोहफा दिया है। केंद्र ने इसके तहत उनके लिए दिवाली तोहफे (Diwali Gift) के रूप में मंहगाई भत्ते (DA) को बढ़ा दिया है।  सरकार ने आज कैबिनेट की बैठक में कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के लिए महंगाई भत्ते को 3 फीसदी बढ़ाने की हरी झंडी दे दी है।

    ज्ञात हो कि केंद्र के इस फैसले के बाद अब डीए 3 फीसदी और बढ़ेगा। जिससे कर्मचारियों और पेंशनभोगियों का मंहगाई भत्ता 31 फीसदी हो गया है। मोदी सरकार के इस फैसले का सीधा फायदा एक करोड़ से अधिक केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनर्स को मिलने वाला है। इससे पहले जुलाई में केंद्र ने मंहगाई भत्ता 11 फीसदी बढ़ाकर 28 फीसदी किया था। लेकिन अब तीन फीसदी फिर बढ़ने से यह 31 फीसदी हो गया है। 

    महंगाई भत्ता इतने फीसदी बढ़ा-

    गौर हो कि केंद्र द्वारा मंहगाई भत्ता बढ़ाने के बाद दूसरे अलाउंस में भी बढ़ोतरी होगी। जिसमें ट्रैवल अलाउंस और सिटी अलाउंस का समावेश है। जबकि रिटायरमेंट के लिए प्रोविडेंट फंड और ग्रेच्युटी में भी इजाफा होगा। अनुराग ठाकुर ने कहा कि महंगाई भत्ता और महंगाई राहत की दरों का निर्धारण ऑल इंडिया कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स फॉर इंडस्ट्रियल वर्कर्स में बढ़ोतरी के आधार पर किया जाता है। केंद्र सरकार के कर्मचारियों को 1 जुलाई 2021 से महंगाई भत्ता और पेंशनर को महंगाई राहत में 3% की बढ़ोतरी करके 31% किया गया है।

    ठाकुर ने बताया कि इससे 47 लाख 14 हज़ार केंद्र सरकार के कर्मचारी और 68 लाख 62 हज़ार पेंशनर लाभान्वित होंगे। ठाकुर ने कहा कि देश में PM गति शक्ति नेशनल मास्टर प्लान के क्रियान्वयन को मंजूरी दी गई, PM गति शक्ति नेशनल मास्टर प्लान की मॉनिटरिंग थ्री टियर सिस्टम में की जाएगी जिसकी कैबिनेट सचिव अध्यक्षता करेंगे। इनकी अध्यक्षता में एक सचिवों का एम्पावर ग्रुप ऑफ सेक्रेटरीज बनेगा।