Air india
File Photo

    नयी दिल्ली. उत्तरी अमेरिका (America) में 5जी इंटरनेट सेवा (5G Internet Service) शुरू किए जाने के कारण एअर इंडिया (Air India) ने बुधवार से भारत-अमेरिका मार्गों पर 14 उड़ानें रद्द कर दीं। नई 5जी सेवा से विमानों की नौवहन प्रणाली प्रभावित हो सकती है। इस बीच, नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) प्रमुख अरुण कुमार ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ‘भारतीय विमानन नियामक अमेरिका में 5जी इंटरनेट सेवा के कारण पैदा हुई स्थिति से उबरने के लिए हमारी विमानन कंपनियों के साथ निकट समन्वय में काम कर रहा है।”

    अमेरिकी विमानन संघीय विमानन प्रशासन (एफएए) ने 14 जनवरी को कहा था कि “विमान के रेडियो एल्टिमीटर पर 5जी के प्रभाव से इंजन और ब्रेकिंग प्रणाली रुक सकती है जिससे विमान को रनवे पर रोकने में दिक्कत आ सकती है।”

    कुल तीन विमान सेवाएं – अमेरिकन एयरलाइंस, डेल्टा एयरलाइंस और एअर इंडिया वर्तमान में भारत और अमेरिका के बीच सीधी उड़ानें संचालित करती हैं। अमेरिकन एयरलाइंस और डेल्टा एयरलाइंस ने इस मामले में ‘पीटीआई-भाषा’ के सवालों का जवाब नहीं दिया।

    एअर इंडिया ने क्रमशः बुधवार और बृहस्पतिवार को संचालित होने वाली आठ उड़ानें और छह उड़ानें रद्द कर दीं। इस संबंध में एअर इंडिया ने ट्वीट कर कहा, “वह अमेरिका में 5जी संचार सेवा शुरू होने के कारण” बुधवार को भारत-अमेरिका के बीच आठ उड़ानें संचालित नहीं करेगी।”

    एअर इंडिया की इन आठ उड़ानों में दिल्ली-न्यूयॉर्क, न्यूयॉर्क-दिल्ली, दिल्ली-शिकागो, शिकागो-दिल्ली, दिल्ली-सैन फ्रांसिस्को, सैन फ्रांसिस्को-दिल्ली, दिल्ली-नेवार्क और नेवार्क-दिल्ली शामिल हैं। बाद में दिन के दौरान, एअर इंडिया के अधिकारियों ने कहा कि बृहस्पतिवार को भारत और अमेरिका के बीच संचालित होने वाली कुल छह उड़ानें भी रद्द कर दी गई हैं। रद्द की गईं इन छह उड़ानों में दिल्ली-शिकागो, शिकागो-दिल्ली, दिल्ली-सैन फ्रांसिस्को, सैन फ्रांसिस्को-दिल्ली, दिल्ली-नेवार्क और नेवार्क-दिल्ली शामिल हैं। (एजेंसी)