आज है देश के पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्‍दुल कलाम का जन्मदिन, पढ़ें मिसाइलमैन के अनमोल विचार

    नई दिल्ली: भारत के इतिहास में 15 अक्टूबर का दिन कई मायनों में खास है। इस दिन देश के पूर्व राष्ट्रपति, महान वैज्ञानिक और  भारत रत्न डॉ एपीजे अब्दुल कलाम (Dr APJ Abdul Kalam’s Birth Anniversary) का जन्मदिन होता है। मिसाइलमैन अब्दुल कलाम ऐसी शख्सियत थे जिनका हर कोई दिवाना था। एपीजे पायलट बनना चाहते थे लेकिन कुछ कारणों से उनका यह सपना अधूरा रह गया। कलाम का जन्म तमिलनाडु के रामेश्वरम कस्बे में 15 अक्टूबर 1931 को हुआ था। उनके पिता का नाम जैनुलाब्दीन और माता का नाम आशियम्मा था। अब्दुल कलाम की आज 90वीं जयंती है। इस अवसर पर हम आपको देश के पूर्व राष्ट्रपति और महान वैज्ञानिक अब्दुल कलाम के अनमोल विचार बता रहे हैं जो आज भी सभी को प्रेरणा देते हैं।

    कलाम साहब ऐसी शख्सियत थे कि उनके सरल स्वभाव, सादा जीवन और ऊँचे सपने देखने की ललक ने उन्हें पूरी दुनिया में एक अलग पहचान दी। मिसाइलमैन जिस तरह से बच्चों के सामने खुलकर विचार रखते थे और उन्हें सपने देखने के लिए मोटिवेट करते थे उसे देखकर हर कोई उनका कायल हो जाता था। पढ़ें कलाम साहब के अनमोल विचार-

    1-‘सपनों को सच करने के लिए सपने देखना जरूरी है।’ 

    2-‘सपने विचारों में बदलते हैं और विचार क्रिया में।’

    3-‘जिंदगी में मुश्किलें आना जरूरी है क्योंकि कामयाबी का आनंद लेने के लिए मुश्किलें आवश्यक हैं।

    4-‘अगर आपकी कामयाब होने की परिभाषा मजबूत है तो असफलता आप पर कभी हावी नहीं हो सकती।’ 

    5-‘देश का सबसे अच्छा दिमाग क्लासरूम के आखिरी बेंचों पर मिल सकता है।

    6-‘महान सपने देखने वालों के महान सपने पूरे होते हैं।’

    7-‘इससे पहले कि सपने सच हों आपको सपने देखने होंगे।”

    गौर हो कि पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम की गिनती देश के महान वैज्ञानिकों में की जाती है। वे देश के 11वें राष्ट्रपति थे। लेकिन  27 जुलाई 2015 को शिलॉन्ग में उनका निधन हो गया। आईआईएम शिलॉन्ग में एक लेक्चर देने के समय ही पूर्व राष्ट्रपति को दिल का दौरा पड़ा, था जिसके बाद वह बेहोश होकर गिर पड़े थे।