भारत और फ्रांस की सेनाएं 15 से 26 नवंबर तक सैन्य अभ्यास करेंगे

    नयी दिल्ली. भारत (India) और फ्रांस (France) आतंकवाद रोधी अभियानों पर ध्यान केंद्रित करते हुए फ्रांस के बंदरगाह शहर फ्रेजस में सोमवार से 12 दिवसीय सैन्य अभ्यास (military exercises) आरंभ करेंगे। रक्षा मंत्रालय ने बताया कि ‘गोरखा राइफल्स इन्फैंट्री’ बटालियन की एक पलटन भारतीय सेना का प्रतिनिधित्व करेगी, जबकि फ्रांसीसी पक्ष छठी ‘लाइट आर्मर्ड ब्रिगेड’ की 21वीं ‘मरीन इन्फैंट्री रेजिमेंट’ के जवानों को तैनात करेगा।

    बयान में कहा गया, “अभ्यास ‘शक्ति’ संयुक्त राष्ट्र के जनादेश के तहत अर्ध-शहरी इलाके में आतंकवाद विरोधी अभियानों पर ध्यान केंद्रित करेगा, जिसका उद्देश्य दोनों सेनाओं के बीच सैन्य सहयोग को बढ़ाना है।”

    इससे पहले दोनों देशों की सेनाओं के बीच अभ्यास 2019 में राजस्थान की ‘महाजन फील्ड फायरिंग रेंज’ में आयोजित किया गया था। गोरखा राइफल्स का सैन्य वीरता और सर्वोच्च बलिदान का 68 वर्ष पुराना गौरवशाली इतिहास है और उसकी एक समृद्ध विरासत है। फ्रांसीसी सेना रेजिमेंट का इतिहास 120 से अधिक वर्ष पुराना है और उसने फ्रांसीसी सेना से जुड़े सभी प्रमुख युद्धों में भाग लिया है। (एजेंसी)