‘कर्नाटक विधानसभा चुनाव 2023’ से पहले बीजेपी और जनता दल (एस) को लगा झटका, इन दो विधायकों ने दिया इस्तीफा

Loading

बेंगलुरु : कर्नाटक (Karnataka) में 10 मई को होने वाले विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) से पहले बीजेपी (BJP) को बड़ा झटका लगा है। कुदलिगी निर्वाचन क्षेत्र के बीजेपी विधायक एन वाई गोपालकृष्ण (N.Y Gopalakrishna) ने आज विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा (Resignation) दे दिया है। सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक, गोपालकृष्ण कांग्रेस (Congress) का दामन थामने वाले हैं। गोपालकृष्ण ने विधानसभा अध्यक्ष विश्वेश्वर हेगड़े कागेरी से उनके कार्यालय में मुलाकात की और उन्हें अपना इस्तीफा सौंपा। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, एन वाई गोपालकृष्ण ने हाल ही में राज्य कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं डी के शिवकुमार और सिद्दरमैया से मुलाकात की थी। बता दें कि वह पहले कांग्रेस में ही थे। गोपालकृष्ण चित्रदुर्ग जिले के मोलाकलमुरु विधानसभा क्षेत्र से चार बार चुनाव जीत चुके हैं। साल 2018 में कांग्रेस का टिकट नहीं मिलने पर वह चुनाव से पहले बीजेपी में शामिल हो गए थे। बीजेपी पार्टी ने उन्हें मोलाकलमुरु से टिकट देने के बजाय विजयनगर जिले के कुदलिगी से टिकट दे दिया। क्योंकि वरिष्ठ नेता श्रीरामुलु को मोलाकलमुरु से मैदान में उतारा गया था। 

जनता दल (एस) के दूसरे विधायक ने इस्तीफा दिया

एएनआई के मुताबिक, जनता दल (एस) के वरिष्ठ नेता ए टी रामास्वामी ने शुक्रवार को विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया। वह अर्कलगुड से विधायक थे। ऐसा करने वाले रामास्वामी जनता दल (एस) के दूसरे विधायक हैं। इससे पहले 27 मार्च को पार्टी के एक अन्य विधायक एस आर श्रीनिवास ने इस्तीफा दे दिया था और बाद में कांग्रेस में शामिल हो गए थे।

विधानसभा सदस्य के रूप में सेवा करने का अवसर देने के लिए ए टी रामास्वामी ने जनता दल (एस) को धन्यवाद दिया और कहा कि उन्होंने कभी भी निजी लाभ के लिए राजनीति नहीं की और पूरी ईमानदारी से राज्य और अपने निर्वाचन क्षेत्र के लोगों की सेवा की है।