bommai

    नयी दिल्ली. कर्नाटक के नवनियुक्त मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई (Bsavraj Bommai) शुक्रवार को नयी दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) से मुलाकात करेंगे। मुख्यमंत्री का पद संभालने के बाद बोम्मई का राष्ट्रीय राजधानी का यह पहला दौरा है। बोम्मई की प्रधानमंत्री से शाम चार बजे मुलाकात होगी। इससे पहले वह गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत विभिन्न केंद्रीय मंत्रियों से मिल रहे हैं। वह भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा से भी मुलाकात करेंगे।

    इन बैठकों में कर्नाटक में मंत्रिमंडल विस्तार के मुद्दे पर भी चर्चा हो सकती है। केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात से पहले बोम्मई ने संवाददाताओं से कहा कि वह यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पार्टी प्रमुख और अन्य केंद्रीय मंत्रियों से मिलने और उनका आर्शीवाद लेने आए हैं। बैठक के बाद रक्षा मंत्री ने ट्वीट किया, ‘‘आज कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस बोम्मई से मुलाकात की। उन्हें सफल कार्यकाल के लिए शुभकामनाएं दीं।” बोम्मई से जब पूछा गया कि क्या वह केंद्रीय नेताओं से मंत्रिमंडल विस्तार के बारे में बात करेंगे तो उन्होंने कहा कि भारतीय जनता दल (भाजपा) एक राष्ट्रीय दल है और उम्मीदें करना सामान्य बात है।

    उन्होंने कहा कि भाजपा अध्यक्ष से मुलाकात में वह राज्य में मंत्रिमंडल विस्तार के मुद्दे पर निर्देश लेंगे। बोम्मई ने कहा, ‘‘हमारी पार्टी में उम्मीदें पूरी करने की ताकत है। नड्डा जी के साथ बैठक में देखते हैं कि मंत्रिमंडल विस्तार के बारे में हमें क्या निर्देश मिलता है।” पूर्ववर्ती बी एस येदियुरप्पा के इस्तीफे के बाद बोम्मई मंगलवार को भाजपा विधायक दल के नए नेता चुने गए थे और उन्होंने बुधवार को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी।

    मंत्रिमंडल विस्तार के बारे में कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने बृहस्पतिवार को राज्य में कहा था कि वह आने वाले दिनों में इस मुद्दे पर पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व के साथ चर्चा करेंगे। बोम्मई ने कहा था, “जब मैं केंद्रीय नेतृत्व से मिलने दिल्ली जाऊंगा, तब मैं राज्य से संबंधित लंबित परियोजनाओं और मुद्दों के बारे में कर्नाटक के सांसदों और केंद्रीय मंत्रियों से भी मुलाकात करने का प्रयास करूंगा।” कर्नाटक के मुख्यमंत्री ने यहां जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत से भी मुलाकात की और कावेरी नदी पर मेकेदातु सिंचाई परियोजना के बारे में चर्चा की। उन्होंने कर्नाटक के सांसदों के लिए शुक्रवार को भोज भी रखा है। कर्नाटक में भाजपा सरकार के दो साल के कार्यकाल में भ्रष्टाचार के कांग्रेस के आरोपों के जवाब में बोम्मई ने कहा, ‘‘यह झूठ है।”