Corona
File Photo

    आइजोल: मिजोरम में सोमवार को कोविड-19 के सबसे ज्यादा 662 नए मामले आए। एक अधिकारी ने इस बारे में बताया। उन्होंने बताया कि एक अनाथालय और नशा मुक्ति केंद्र की व्यापक स्तर पर जांच में 528 मामलों की पुष्टि हुई। मिजोरम मेडिकल ऑपरेशन टीम के अध्यक्ष जेड आर थियामसंगा ने बताया कि नए मामलों के कारण दैनिक संक्रमण दर 35.26 प्रतिशत हो गयी। कुल 1877 नमूनों की जांच की गयी। 

    उन्होंने बताया कि आइजोल के उत्तरी हिस्से में जुआंगतुई मुअन्ना वेंग में स्थित स्थित निजी अनाथालय और नशा मुक्ति केंद्र थूतक नुपुइतू टीम (टीएनटी) में जांच की गयी। थियामसंगा ने बताया कि हाल में केंद्र में रह रहे पांच लोग संक्रमित मिले थे जिसके बाद व्यापक स्तर पर जांच का फैसला किया गया। उन्होंने पीटीआई-भाषा को बताया, ‘‘केंद्र के प्रबंधन से बातचीत और रविवार को संपर्क का पता लगाने के दौरान हमें लगा था कि बड़े स्तर पर लोग संक्रमित हुए हैं, जिसके बाद जांच की गयी।” 

    उन्होंने बताया कि डॉ संगतथकिमा द्वारा चलाए जाने वाले केंद्र में बच्चे और वयस्कों समेत करीब 1500 लोग रहते हैं। लोगों, गैर सरकारी संगठनों और कभी-कभार सरकार की मदद से यह पुनर्वास केंद्र 30 साल से चल रहा है। थियामसंगा ने बताया कि व्यापक जांच के दौरान 989 नमूनों की जांच की गयी और संक्रमण दर 53.38 प्रतिशत पाई गई। 

    राज्य में 4132 उपचाराधीन मरीज हैं और 13,390 लोग ठीक हो चुके हैं। पिछले 24 घंटे में दो लोगों की मौत होने के बाद, इस घातक वायरस के संक्रमण से जान गंवाने वालों की बढ़ कर संख्या 83 हो गयी है। राज्य के टीकाकरण अधिकारी डॉक्टर लालजवमी ने बताया कि शनिवार तक 3,70,107 लोगों को टीके की पहली खुराक लग चुकी है। अब तक 53,517 लोग दोनों खुराक ले चुके हैं। (एजेंसी)