ग्वालियर में भी डेंगू का कहर (Photo Credits-ANI Twitter)
ग्वालियर में भी डेंगू का कहर (Photo Credits-ANI Twitter)

    नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के बाद अब मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में भी डेंगू (Dengue Outbreak in MP) का कहर जारी है। सूबे में डेंगू के अब तक 2500 से अधिक नए मामले सामने आए हैं। लगातार सामने आ रहे डेंगू के मामलों को लेकर अब शिवराज सरकार (Shivraj Govt) भी एक्शन मोड़ में आ गई है। राज्य ने डेंगू के बढ़ते मामलों को लेकर 15 सितंबर तक लार्वा सर्वे को लेकर पूरे सूबे में अभियान चलाने का फैसला लिया है। इसमें मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान खुद शामिल होंगे। 

    ज्ञात हो कि मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ मनीष शर्मा ने कहा कि ग्वालियर में डेंगू के मरीजों का कुल आंकड़ा 55 है जिसमे 11 मरीज बाहर के हैं।  रोकथाम के लिए हमने अपनी लार्वा टीम को सतर्क किया है। जिन 46 गांवों में बाढ़ आई थी वहां लार्वा का सर्वे करवा रहे हैं। ग्वालियर में डेंगू के कहर का अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि यहां 4 दिनों के भीतर 30 बच्चे डेंगू की चपेट में आए हैं। 

    ग्वालियर में डेंगू के मरीजों का कुल आंकड़ा 55 पहुंचा-

    दूसरी तरह इंदौर के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ बी.एस. कल डेंगू के 17 नए मामले सामने आए हैं जिन्हें मिलाकर अभी तक कुल 139 मामले सामने आ चुके हैं। डेंगू की रोकथाम के लिए लार्वा सर्वे चल रहा है। कोविड के कल 6 नए मामले सामने आए, कोविड के अभी कुल 36 सक्रिय मामले हैं। इंदौर में डेंगू मरीजों की संख्या में तेजी से बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। 

    इंदौर भी डेंगू के 17 नए मामले आए सामने-

    वहीं मध्य प्रदेश के भोपाल में एम्स, बीएमएचआरसी, जेपी अस्पताल, हमीदिया अस्पताल में लगातार डेंगू की जांच की जा रही है। ऐसे में अगर हालात नहीं सुधरते हैं तो आने वाले समय में डेंगू का आंकड़ा रोजाना 20 के पार रह सकता है। अस्पतालों में सीजनल मरीजों की संख्या भी लगातार बढ़ रही है।

    गौरतलब है कि इससे पहले जबलपुर में एक महिला आरक्षक की डेंगू से जान गई है। महिला आरक्षक का नाम उषा तिवारी था। डॉक्टरों के मुताबिक उषा की प्लेटलेट्स लगातार गिरती गयी और उसकी मौत हो गई। 

    उल्लेखनीय है कि सीएम शिवराज सिंह चौहान ने डेंगू के प्रसार को बढ़ने से रोकने के लिए  ‘डेंगू से जंग जनता के संग’ अभियान के तहत लोगों से सरकार का सहयोग करने की अपील की है। साथ ही मुख्यमंत्री ने लोगों से कहा कि वे अपने घरों और उसके आस-पास कूलर, बर्तन सहित अन्य चीजों में पानी को जमा न होने दें।