Dhanbad Judge Murder : Police detained 243 people in connection with the death of a judge in Dhanbad, 17 arrested so far, two police officials suspended

  • मारने के लिए हथियार के रूप में चोरी के ऑटो का हुआ प्रयोग .

धनबाद/रांची. एक बड़ी खबर के अनुसार धनबाद (Dhanbad) के जिला एवं सत्र न्यायाधीश उत्तम आनंद (Judge Uttam Anand) की संदिग्ध हालात में मौत तो जरुर हुई। लेकिन अब इस मामले में रोज नए नए खुलासे होते दिख रहे हैं। जहाँ शुरुआती जांच में यही माना जा रहा था कि सड़क हादसे में न्यायाधीश उत्तम आनंद की मौत हुई है। मगर अब मिले कुछ CCTV फुटेज आने के बाद यह मामला और भी उलझ गया है। अब इस फुटेज से इस बात की आशंका अब और बढ़ गई है कि कहीं न्यायाधीश को ऑटो से धक्का मार कर हत्या तो नहीं कर दी गई? पता हो कि न्यायाधीश उत्तम आनंद हजारीबाग के रहने वाले थे। उनके पिता और भाई हजारीबाग कोर्ट में वकील भी हैं।

क्या थी घटना :

घटना सुबह 5 बजे की है। जब अपने रोजाना की सुबह की सैर पर पूरी तरह से खाली सड़क न्यायाधीश उत्तम आनंद टहल रहे थे। वे सड़क के किनारे एकदम बाईं ओर टहल रहे थे। तभी उनके पीछे से एक ऑटो आता है और सड़क पर सीधे न जाकर हल्का सा बायां मुड़ता है और किनारे चल रहे जज आनंद को तेज रफ्तार में टक्कर मारता है। लेकिन इसमें सबसे हैरानी की बात यह है कि टक्कर मारने के बाद ये ऑटो वहां रुकता तक नहीं है और खाली सड़क पर तेज रफ्तार से बिना कुछ देखे आगे निकल जाता है।

लेकिन इस घटना के बाद अब यह बात धीरे-धीरे साफ होती जा रही है कि धनबाद के जिला एवं सत्र न्यायाधीश-8 उत्तम आनंद की मौत  महज एक हादसा नहीं बल्कि पूरी तरह से एक सुनियोजित हत्या है। यही बात तो CCTV फुटेजबोल रहा है। इसके साथ ही अब इस मामले में यह तथ्य सामने आया है कि जज को उड़ाने के लिए जिस ऑटो का प्रयोग हुआ वह पाथरडीह की सुगनी देवी की है। लेकिन सुगनी के अनुसार रात में उसका ऑटो चोरी हो गया था । इधर इस घटना को तड़के अंजाम दिया गया। जिससे अब कई सवाल उठ खड़े हुए हैं।

घटना के बाद गोविंदपुर में दिखा खूनी ऑटो :

इधर धनबाद के रणधीर वर्मा चौक के थोड़ी दूर पर सुबह 5 बजकर 8 मिनट पर घटना हुई। इसके बाद CCTV फुटेज में जज को धक्का मारते जो ऑटो दिख रहा है वह करीब पौने घंटे बाद गोविंदपुर के एक पेट्रोल पंप के CCTV फुटेज में कैद हुआ। पुलिस ने फिलहाल ऑटो को बरामद करने में लगी है। इसके साथ ही इसकी मालकिन सुगनी देवी से भी पूछताछ की जा रही है।

फिलहाल इस साजिश रचने वालों तक पहुंचने के लिए पुलिस अब कड़ी से कड़ी जोड़ने में लगी हुई है  है। इस मामले में धनबाद के कुछ चर्चित और दबंग लोगों से भी पुलिस पूछताछ की तैयारी कर रही है। SSP संजीव कुमार ने सिटी SP आर.राम कुमार के नेतृत्व में हत्याकांड की जांच के लिए अब SIT का गठन किया गया है। बोकारो DIG मयूर पटेल भी मौके पर गए। इसके साथ ही उन्होंने दावा किया कि न्यायाधीश को मारने वाले को पकडऩे के लिए हर मुमकिन कार्रवाई फिलहाल की जा रही है।