jairam-mamta

Loading

ग्वालियर (मप्र): तृणमूल कांग्रेस (TMC) के पश्चिम बंगाल (West Bengal) में सभी 42 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ने का फैसला करने के बीच कांग्रेस (Congress) ने रविवार को कहा कि आगामी आम चुनाव के वास्ते ममता बनर्जी (Mamta Bannerjee) नीत दल के साथ गठबंधन के लिए दरवाजे अब भी खुले हुए हैं।

पटना में विपक्ष की रैली के मद्देनजर कांग्रेस के महासचिव और संचार प्रभारी जयराम रमेश (Jairam Ramesh ) ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि उन्हें अब भी उम्मीद और विश्वास है कि जब पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी कहती हैं कि वह ‘इंडिया’ (इंडियन नेशनल डेवलेपमेंटल इन्क्लूसिव एलायंस) गठबंधन में हैं तो उनकी प्राथमिकता भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को हराना है।

उन्होंने ग्वालियर में कहा, ‘‘हमने कोई दरवाजा बंद नहीं किया है। उन्होंने एकतरफा घोषणा की कि वह पश्चिम बंगाल में सभी 42 सीटों पर चुनाव लड़ेंगी, खैर यह उनकी घोषणा है। जहां तक हमारा संबंध है तो बातचीत अब भी जारी है और दरवाजे अब भी खुले हैं।” बिहार की राजधानी पटना में होने वाली रैली पर रमेश ने कहा कि यह विपक्ष की संयुक्त रैली है और यह प्रधानमंत्री के शनिवार को बिहार का दौरा करने के बाद हो रही है।

उन्होंने कहा, ‘‘यह बहुत महत्वपूर्ण राजनीतिक रैली है और यह भाजपा तथा उसके सहयोगियों को हराने के लिए विपक्ष की एकता को दिखाता है।” उन्होंने बताया कि पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष और वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने भी रैली में भाग लेने के लिए अपनी ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ से विराम लिया है। रमेश ने कहा, ‘‘आज यात्रा का 50वां दिन है, थोड़ा-सा बदलाव किया गया है क्योंकि राहुल गांधी को विपक्ष की रैली के लिए पटना जाना है और कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे भी इसमें भाग ले रहे हैं।” कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘आज सुबह, वह (राहुल गांधी) अग्निवीर मुद्दे पर बातचीत करेंगे। फिर मोहना में एक रोडशो होगा। उसके बाद आज कोई यात्रा नहीं होगी। लेकिन कल, 51वें दिन तय योजना और कार्यक्रम के अनुसार, हम शिवपुरी (मप्र) से शुरुआत करेंगे।”

उन्होंने बताया कि पांचवें दिन वह (राहुल) उज्जैन जाएंगे और श्री महाकालेश्वर मंदिर के दर्शन करेंगे। हाल में उत्तर प्रदेश में ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ में लोक दल के भाग लेने के बारे में पूछने पर रमेश ने कहा कि ‘‘असली” लोक दल ने अलीगढ़ में यात्रा के दौरान राहुल गांधी का स्वागत किया। उन्होंने बताया कि वहां पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह, इंदिरा गांधी और लोक दल के पोस्टर, बैनर तथा होर्डिंग थे। उन्होंने दावा किया, ‘‘वह असली लोक दल था, असली लोक दल, रालोद (राष्ट्रीय लोक दल) नकली लोक दल है।”

केंद्र सरकार द्वारा हाल में पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह को मरणोपरांत भारत रत्न दिए जाने के बाद रालोद भाजपा नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में शामिल हो गयी। यह पूछे जाने पर कि क्या राहुल गांधी वायनाड लोकसभा सीट (केरल) से चुनाव लड़ेंगे, इस पर रमेश ने कहा, ‘‘बातचीत की जा रही है और राहुल गांधी सीट का निर्णय लेंगे।” (एजेंसी)