Farmer Protest, National
किसान आंदोलन का 13 वां दिन ( सोशल मीडिया)

Loading

नई दिल्ली: हरियाणा-पंजाब बॉर्डर पर बीते दिनों से चल रहे किसान आंदोलन ( Farmers Protest) का आज 13वां दिन हो गया है जहां पर किसान आज भी बॉर्डर पर डटे हुए है उनका सरकार के खिलाफ प्रदर्शन थमा नहीं है। आज 25 फरवरी को किसान दोनों सीमाओं पर एक सम्मेलन का आयोजन करेंगे इस दौरान WTO पर चर्चा की जा सकती है।

किसान नेता पंढेर ने दी जानकारी

यहां पर आंदोलन में शामिल किसान नेता सरवन सिंह पंढेर ने कहा, ”आज शंभू और खनौरी में मोर्चों का 13वां दिन है। आज हम दोनों सीमाओं पर एक सम्मेलन करेंगे क्योंकि WTO पर चर्चा होगी। हमने भारत सरकार से मांग की है कि सरकार कृषि क्षेत्र को WTO से बाहर निकाले… हम शाम को प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे… 26 फरवरी की दोपहर में दोनों बॉर्डरों पर 20 फीट से ऊंचे पुतलों का दहन किया जाएगा।

https://twitter.com/i/status/1761563254084563386

27 फरवरी को किसान मजदूर मोर्चा, SKM (गैर राजनीतिक) देश भर के अपने सभी नेताओं की बैठक करेगा। 28 फरवरी को दोनों मंच बैठेंगे और चर्चा करेंगे। 29 फरवरी को अगले कदम को लेकर फैसला किया जाएगा… हम प्रधानमंत्री मोदी से किसानों के साथ जो कुछ भी हो रहा है उस पर बोलने की मांग कर रहे हैं।”

सरकार ढूंढ रही है रास्ता

किसानों का आंदोलन और प्रदर्शन मांग पूरी होने तक जारी है तो वहीं इधर राजनीतिक सियासत भी छिड़ गई है। इस बीच सरकार, किसानों के साथ बातचीत कर रही है। इनसे बैठकें कर समाधान निकाले जा रहे है। बता दें कि कई दिन से बंद टिकरी बॉर्डर पर नेशनल हाइवे 9 की सड़क पर बैरिकेडिंग हटाई जा रही है।