केंद्रीय मंत्री के पद से हटाए जानें के 23 दिन बाद बाबुल सुप्रियों ने छोड़ी राजनीति, फेसबुक पोस्ट के जरिए किया ऐलान

    नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta party) के नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियों (Babul Supriyo) ने राजनीति से संन्यास लेने का ऐलान कर दिया है। शनिवार को उन्होंने फेसबुक पोस्ट के जरिए इस बात की घोषणा की। उन्होंने लिखा कि, वह किसी भी पार्टी में नहीं जारहे हैं। बीजेपी उनकी पार्टी थी और रहेगी। वर्तमान में वह पश्चिम बंगाल (West Bengal) की आसनसोल सीट से सांसद हैं। 

    सुप्रियों ने फेसबुक पर लंबा चौड़ा नोट लिखा है। जिसमें उन्होंने कहा, “मैं तो जा रहा हूँ.. Alvida… सब की बातें सुनी.. बाप, (माँ) पत्नी, बेटी, दो प्यारे दोस्त.. सब सुनकर कहता हूँ मैं किसी और पार्टी में नहीं जा रहा.. #TMC, #Congress, #CPIM, कहीं नहीं – पुष्टि, किसी ने मुझे फोन नहीं किया, मैं भी कहीं नहीं जा रहा हूँ  मैं एक टीम का खिलाड़ी हूँ! हमेशा एक टीम का समर्थन किया है,सिर्फ पार्टी की है BJP

    बिना राजनीति के भी सामाजिक कार्य संभव 

    उन्होंने कहा, “सामाजिक कार्य करना है तो बिना राजनीति के भी कर सकते हैं। मैंने पिछले कुछ दिनों में माननीय अमित शाह और माननीय नड्डा जी को राजनीति छोड़ने का संकल्प लिया है मैं उनका आभारी हूँ कि उन्होंने मुझे कई मायनों में प्रेरित किया है | मैं उनके प्यार को कभी नहीं भूलूंगा और इसलिए मैं उन्हें फिर से वही चीज नहीं दिखा सकता विशेष रूप से जब मैंने फैसला किया है कि ‘मेरा मैं’ क्या करना चाहता है.”

    बंगाल चुनाव के समय पार्टी से थे मतभेद 

    सुप्रियो ने कहा, “एक और बात.. चुनाव से पहले राज्य नेतृत्व के साथ कुछ मुद्दे थे – यह हो सकता है लेकिन उनमें से कुछ सार्वजनिक रूप से आ रहे थे | कहीं न कहीं मैं इसके लिए जिम्मेदार हूं, फिर भी कई और नेता भी बहुत जिम्मेदार हैं। उन्होंने कहा, “हालांकि मैं नहीं जाना चाहता कि कौन जिम्मेदार है – लेकिन पार्टी की असहमति और वरिष्ठ नेताओं की असहमति से नुकसान हो रहा था, ‘ग्राउंड जीरो’ में भी पार्टी कार्यकर्ताओं के हौसले को किसी भी मदद नहीं कर रहा था।”

    ज्ञात हो कि, केंद्रीय मंत्रिमंडल से हटाए जाने के बाद से ही सुप्रियो की राजनीति छोड़ने की चर्चा शुरू हो गई थी। पिछले दिनों उन्होंने इसकी ओर उन्होंने इशारा भी किया था।