Goa Gangrape : CM Pramod Sawant clarifies on his statement on the gangrape of two girls in Goa, said- My statement about unfortunate incident was taken out of context
File

    पणजी: गोवा (Goa) की बीच पर दो नाबालिग लड़कियों के साथ हुए कथित सामूहिक दुष्कर्म (Gangrape) के मामले में बयान देकर आलोचना झेल रहे मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत (Pramod Sawant) ने अपने बयान को लेकर अब सफाई दी है। उन्होंने पूरे मामले को दुर्भाग्यपूर्ण घटना बताते हुए कहा है कि, “मेरे बयान को संदर्भ से बाहर कर पेश किया गया।” 

    एएनआई के अनुसार, प्रमोद सावंत ने कहा, “एक जिम्मेदार सरकार के मुखिया के रूप में और एक 14 साल की बेटी के पिता के रूप में, मैं बहुत दुखी हुआ, मेरे बयान को संदर्भ से बाहर कर पेश किया गया। इस घटना का दर्द अवर्णनीय है।” 

    बता दें कि, गोवा विधानसभा में सावंत ने कथित तौर पर कहा था कि, माता-पिता को यह आत्ममंथन करने की जरूरत है कि, उनके बच्चे रात में इतनी देर तक समुद्र तट पर क्यों थे।

    सावंत ने सदन में ध्यानाकर्षण नोटिस पर एक चर्चा के दौरान बुधवार को कहा था कि, जब 14 साल के बच्चे पूरी रात समुद्र तट पर रहते हैं तो माता-पिता को आत्ममंथन करने की जरूरत है। हम सिर्फ इसलिए ही सरकार और पुलिस पर जिम्मेदारी नहीं डाल सकते कि बच्चे नहीं सुनते।गृह विभाग की भी जिम्मेदारी संभाल रहे सावंत ने कहा था कि अपने बच्चों की सुरक्षा सुनिश्चित करना माता-पिता की जिम्मेदारी है और उन्हें अपने बच्चों खासतौर से नाबालिगों को रात-रात भर बाहर नहीं रहने देना चाहिए।

    सावंत के इस बयान के बाद उन्हें चौतरफा आलोचना का सामना करना पड़ रहा है। एक तरफ विपक्ष उन पर पूरी तरह से हावी होने की कोशिश में है तो दूसरी ओर सोशल मीडिया पर भी उनके बयान की कड़ी निंदा हो रही है।  

    गौरतलब है कि, रविवार को गोवा की राजधानी से करीब 30 किलोमीटर दूर बेनॉलिम बीच पर चार लोगों ने अपने आप को पुलिसकर्मी बताकर दोनों लड़कियों से कथित तौर पर बलात्कार किया था।