Yuvraj Singh
File Photo

    Loading

    नई दिल्ली. अब गोवा पर्यटन विभाग (Goa Tourism) ने पूर्व क्रिकेटर युवराज सिंह (Yuvraj Singh) को मोरजिम (Morjim) में अपने विला (Villa) को पंजीकृत कराए बिना ‘होमस्टे’ के तौर पर संचालित करने को लेकर एक लीगल नोटिस जारी हुआ है। दरअसल विभाग ने युवराज सिंह को अब आगामी आठ दिसंबर की सुबह 11 बजे पूछताछ के लिए बुलाया है जिसमें उन्हें अपना पक्ष रखते हुए उनसे होनेवाली पूछताछ में कई सवालों के जवाब देने होंगे। 

    नोटिस जारी 

    पता हो कि, गोवा पर्यटन व्यापार अधिनियम 1982 के तहत राज्य में ‘होमस्टे’ या होटल का संचालन पंजीकरण के बाद ही उसे चलाया किया जा सकता है। इसी बाबत राज्य पर्यटन विभाग ने बीते 18 नवंबर को उत्तरी गोवा के ‘मोरजिम’ स्थित पूर्व क्रिकेटर युवराज सिंह के स्वामित्व वाले विला ‘कासा सिंह’ के पते पर एक कानूनी नोटिस भेजा है और जारी किए गए नोटिस में इस पूर्व ‘ऑल राउंडर’ खिलाड़ी को आगामी आठ दिसंबर की सुबह 11 बजे व्यक्तिगत सुनवाई के लिए पेश होने का निर्देश दिया है।

    पर्यटन विभाग लगा सकता है जुर्माना

    युवराज को जारी नोटिस में 40 वर्षीय पूर्व क्रिकेटर से पूछा गया है कि, “पर्यटन व्यापार अधिनियम के तहत संपत्ति का पंजीकरण नहीं कराने के लिए उनके खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई (एक लाख रुपये तक का जुर्माना) क्यों नहीं शुरू होनी चाहिए। इसक अलावे नोटिस में कहा गया है कि, यह विभाग के संज्ञान में आया है कि वर्चेवाड़ा, मोरजिम, पेरनेम, गोवा में स्थित आपका आवासीय परिसर कथित तौर पर ‘होमस्टे’ के रूप में काम कर रहा है और ‘AIRBNB’ जैसे ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर यह बुकिंग के लिए भी फिलहाल उपलब्ध है।” इस विभाग ने नोटिस में युवराज के एक ट्वीट का भी जिक्र हुआ है, जिसमें उन्होंने कहा है कि, वह अपने गोवा स्थित घर में 6 लोगों की मेजबानी करेंगे और इसकी बुकिंग सिर्फ ‘AIRBNB’ पर ही होगी।