Hardik Patel
File Photo

    Loading

    नई दिल्ली. सुबह की बड़ी खबर के अनुसार जहाँ गुजरात (Gujarat) में अब से कुछ ही महीनों बाद विधानसभा चुनाव (Vidhansabha Election) होने वाले हैं। वहीं, चुनावी तैयारियों के बीच गुजरात कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल (Hardik Patel) ने पार्टी पर खुद की अनदेखी पर बड़ा आरोप लगाकर यह संकेत दे दिया है कि पार्टी के अंदर सब ठीक नहीं चल रहा है। 

    इस तरह बीते गुरूवार पाटीदार नेता और गुजरात कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल ने अपनी पार्टी पर निशाना साधा है। इसी तरह कांग्रेस पर उन्हें ‘अनदेखा’ करने का आरोप लगाते हुए, हार्दिक ने साफ़ कहा, “पार्टी में आज मेरी स्थिति एक ऐसे नवविवाहित दूल्हे की है, जिसकी नसबंदी ही करा दी गई हो।”

    दरअसल कांग्रेस की गुजरात इकाई के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल ने बीते गुरूवार को आरोप लगाया कि पार्टी का प्रदेश नेतृत्व उन्हें परेशान कर रहा है और राज्य के आला कांग्रेस नेता चाहते हैं कि, “मैं पार्टी छोड़ दूं।” सतह ही उन्होंने कहा कि, उनकी ओर से कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को अपनी इस स्थिति के बारे में कई बार अवगत कराया गया, लेकिन दुख की बात है कि अब तक कोई निर्णय नहीं हुआ। 

    इसके सतह ही पाटीदार आरक्षण आंदोलन का चेहरा रहे पटेल ने साफ़ कहा कि, ” हमने तो एक बड़ा आंदोलन खड़ा करके कांग्रेस को फायदा दिलाया था। हमें यह लगा था कि जब हमारी ताकत और कांग्रेस की ताकत मिलेगी तो हम प्रदेश को एक नयी स्थिति में लाकर खड़ा करेंगे। लेकिन उल्टे कांग्रेस के नेताओं ने ही हमारी ताकत को कमजोर किया है।”