Photo Credit tiwtter-ANI
Photo Credit tiwtter-ANI

    मुंबईः केंद्रीय गृह मंत्रालय ने महाराष्ट्र के अमरावती शहर में 54 वर्षीय कैमिस्ट की हत्या में बड़ा फैसला सुनाया है। बीजेपी (BJP) की निलंबित प्रवक्ता नुपुर शर्मा (Nupur Sharma Comment) के समर्थन में सोशल मीडिया पर कथित तौर पर कुछ टिप्पणी के चलते हुई कैमिस्ट उमेश प्रह्लादराव कोल्हे की हत्या की जांच अब राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) करेगी। गृह मंत्रालय ने 21 जून को अमरावती महाराष्ट्र में उमेश कोल्हे की बर्बर हत्या से संबंधित मामले की जांच NIA को सौंप दी है। अब एनआईए (NIA) हत्या के पीछे की साजिश, संगठनों की संलिप्तता और अंतरराष्ट्रीय संबंधों की गहन जांच करेगी।

    आपको बता दें कि, हाल ही में उदयपुर की घटना को देखते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) को अमरावती के एक दवा दुकान मालिक उमेश कोल्हे की हत्या की जांच करने का निर्देश दे दिया है। उमेश कोल्हे ने फेसबुक पर निलंबित भाजपा नेता नूपुर शर्मा के समर्थन में एक पोस्ट डाला था, जिसे लेकर यह हत्या होने की बात सामने आई है। अमरावती के इस हत्या के सिलसिले में अब तक कुल 6 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। स्थानीय अदालत ने सभी आरोपियों को 5 जुलाई तक पुलिस हिरासत में भेज दिया है।

    आपको बता दें कि, नुपुर शर्मा ने पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की थी, जिसके खिलाफ देश और दुनिया के कई हिस्सों में प्रदर्शन हुए थे। अभी राजस्थान के उदयपुर में नूपुर शर्मा समर्थक दर्जी कन्हैया लाल की हत्या (Udaipur Taylor Murder) की आग ठंडी भी नही पड़ी थी की एक बार फिर उमेश की हत्या कर दी गई है। जिसकी चारों तरफ घोर निंदा हो रही है।

    डीसीपी अमरावती विक्रम साली ने बताया है कि, अबतक इस मामले में 6 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार जेल भेज दिया है। आरोपियों पर आईपीसी (IPC) की धारा 302 (हत्या),120 बी (आपराधिक साजिश) आदि के तहत मामला दर्ज किया गया।  अदालत ने उन्हें 5 जुलाई तक पुलिस रिमांड में भेज दिया है।