File Photo
File Photo

    नयी दिल्ली: दूरसंचार क्षेत्र की प्रमुख कंपनी एरिक्सन ने बुधवार को जारी एक रिपोर्ट में कहा कि भारत में 2026 तक 33 करोड़ 5जी ग्राहक होने की उम्मीद है और इस दौरान प्रति स्मार्टफोन मासिक डेटा खपत तीन गुना बढ़कर 40 गीगाबाइट हो सकता है।  एरिक्सन मोबिलिटी रिपोर्ट 2021 के अनुसार भारत प्रति स्मार्टफोन औसत डेटा खपत के लिहाज से 14.6 जीबी प्रति माह के साथ दुनिया में दूसरे स्थान पर है। 

    रिपोर्ट में कहा गया, ‘‘भारत में 4जी ग्राहकों की संख्या 2020 में 68 करोड़ से बढ़कर 2026 में 83 करोड़ होने का अनुमान है। इसी तरह 2026 के अंत तक भारत के कुल मोबाइल ग्राहकों में 5जी की हिस्सेदारी करीब 26 प्रतिशत होगी।”

    एरिक्सन इंडिया के प्रमुख नितिन बंसल ने कहा कि कंपनी ने भारत में एक सर्वेक्षण में पाया कि भारत के बड़े शहरों में रहने वाले 42 प्रतिशत उपयोगकर्ता, जो घरेलू इंटरनेट कनेक्शन के रूप में 4जी का इस्तेमाल करते हैं, वे 5जी फिक्स्ड वायरलेस कनेक्शन का इस्तेमाल करने में दिलचस्पी रखते हैं। 

    उन्होंने कहा कि भारत में 50 प्रतिशत उपभोक्ता 5जी के लिए 50 प्रतिशत तक अधिक भुगतान करने के लिए तैयार हैं, बशर्ते उन्हें कई डिजिटल सेवाएं एक साथ मिलें। चार करोड़ उपयोगकर्ता ने कहा कि वे 5जी सेवा आने के पहले सार में ही इसे ले सकते हैं।