Mehbooba Mufta's love for Taliban, said- Afghanistan's government should follow Sharia law
File Pic

    श्रीनगर: पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने बुधवार को दावा किया कि उन्हें फिर से नजरबंद कर दिया गया क्योंकि उनकी जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले में जाने की योजना थी। पूर्व मुख्यमंत्री ने मंगलवार को आरोप लगाया था कि सेना के जवानों ने पुलवामा के त्राल शहर में एक परिवार से मारपीट की और एक महिला सदस्य को जख्मी कर दिया। 

    मुफ्ती ने कहा कि वह बुधवार को परिवार से मिलने जाने वाली थीं। मुफ्ती ने ट्वीट किया, ‘‘त्राल गांव में जाने की कोशिश करने के लिए आज फिर से मुझे फिर से नजरबंद कर दिया गया। इस गांव में सेना ने मारपीट की। यह कश्मीर की असली तस्वीर है, गणमान्य व्यक्तियों को भारत सरकार द्वारा तोड़े मरोड़े और निर्देशित पिकनिक टूर के बजाय यह दिखाया जाना चाहिए।”

    महबूबा मुफ्ती का ट्वीट-

    पीडीपी प्रमुख ने गुपकर रोड पर उनके आवास के मुख्य द्वार को कथित तौर पर अवरुद्ध कर रहे, सुरक्षाबलों के एक वाहन की तस्वीर भी पोस्ट की। मुफ्ती ने मंगलवार को ट्वीट किया था, ‘‘त्राल में यगवानी शिविर की सेना ने गत रात घरों को लूटा और एक परिवार की बेरहमी से पिटाई की। गंभीर चोटों के कारण एक बेटी को अस्पताल में भर्ती कराया गया। यह पहली बार नहीं है जब इस इलाके में, गांव के नागरिकों के साथ सेना ने मारपीट की है।”(एजेंसी)