Jayant Sinha expressed his desire not to contest Lok Sabha elections

Loading

नई दिल्ली: पूर्व मंत्री और हजारीबाग से भारतीय जनता पार्टी (BJP) के सांसद जयंत सिन्हा (Jayant Sinha) ने शनिवार को कहा कि उन्होंने पार्टी अध्यक्ष जे पी नड्डा (JP Nadda) से प्रत्यक्ष चुनावी कर्तव्यों से उन्हें मुक्त करने का अनुरोध किया है और इसी के साथ वह आगामी लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections 2024) नहीं लड़ने वाले नेताओं में शामिल हो गए हैं। सिन्हा ने ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा कि वह आर्थिक और शासन संबंधी मुद्दों पर पार्टी के साथ काम करना जारी रखेंगे।

कहा जा रहा है कि भाजपा कई नए नेताओं को टिकट देने पर विचार कर रही है और कुछ अन्य मौजूदा सांसदों ने भी पार्टी से कहा है कि वे अन्य संगठनात्मक कार्यों पर ध्यान केंद्रित करना चाहेंगे। इससे पहले दिन में भाजपा के पूर्वी दिल्ली से सांसद गौतम गंभीर ने भी कहा कि उन्होंने पार्टी से उन्हें राजनीतिक कर्तव्यों से मुक्त करने के लिए कहा है ताकि वह अपनी आगामी क्रिकेट प्रतिबद्धताओं पर ध्यान केंद्रित कर सकें।

जानें क्या बोलें जयंत सिन्हा 

सिन्हा ने आगामी लोकसभा चुनाव न लड़ने की इच्छा जताई और कहा कि वह अपना पूरा ध्यान भारत तथा पूरी दुनिया में जलवायु परिवर्तन की समस्या से निपटने पर केन्द्रित करना चाहते हैं। उन्होंने ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा, ‘‘मुझे पिछले दस वर्षों में भारत और हजारीबाग के लोगों की सेवा करने का सौभाग्य मिला। इसके अलावा मुझे माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, माननीय गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा नेतृत्व ने कई अवसर दिए। सभी का हृदय से आभार। जय हिन्द।” 

गंभीर भी नहीं लड़ेंगे चुनाव 

इससे पहले, भाजपा सांसद और पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने भी बड़ा ऐलान किया है। पूर्व क्रिकेटर ने सक्रिय राजनीति से संन्यास लेने कि घोषणा की है। गौतम गंभीर ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट ‘X’ पर लिखा, ‘मैंने माननीय पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) से अनुरोध किया है की जी मुझे मेरे राजनीतिक कर्तव्यों से मुक्त करें ताकि मैं अपनी आगामी क्रिकेट प्रतिबद्धताओं पर ध्यान केंद्रित कर सकूं। मुझे लोगों की सेवा करने का अवसर देने के लिए मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) और गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) को हृदय से धन्यवाद देता हूँ।”