किसान नेता राकेश टिकैत (Photo Credits-ANI Twitter)
किसान नेता राकेश टिकैत (Photo Credits-ANI Twitter)

    नई दिल्ली: कृषि कानूनों (Farm Bills 2020) को लेकर किसानों का विरोध प्रदर्शन लगातार जारी है। इसी कड़ी में हरियाणा (Haryana) के करनाल (Karnal Kisan Mahapanchayat( में किसानों और सरकार के बीच फिर मंगलवार को घमासान हुआ है। सरकार ने किसानों की मांग मानने से साफ मना कर दिया है। इसी बीच किसानों पर हुए लाठीचार्ज के बाद अपनी मांगों को लेकर करनाल में किसानों का विरोध प्रदर्शन जारी है। मीडिया से बातचीत में किसान नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने कहा कि आगे क्या करना है ये बैठकर तय करेंगे।

    बता दें कि हरियाणा में किसानों पर लाठीचार्ज के बाद अपनी मांगों को लेकर करनाल में किसानों का विरोध लगातार प्रदर्शन जारी है। किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि आगे क्या करना है ये बैठकर तय करेंगे। रात में प्रशासन से बातचीत नहीं हुई थी। प्रशासन अपना काम करे, वे दूसरे गेट का इस्तेमाल कर लें, कई गेट हैं।

    राकेश टिकैत का बयान-

    गौर हो कि भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत की अगुवाई में सचिवालय के बाहर हजारों किसान धरने पर बैठे हैं। दूसरी तरह जींद में आज किसानों ने हाइवे को खोल दिया है। जींद-चंडीगढ़, जींद-दिल्ली और जींद-करनाल हाईवे को किसानों ने खोला है। इससे पहले यहां जाम लगा हुआ था। किसानों का कहना है कि अगर करनाल से कोई आदेश आया तो फिर रास्तों को जाम कर सकते हैं।