लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा में मारे गए चार किसान और पत्रकार को पंजाब के मंत्री रणदीप सिंह नाभा ने सौंपे 50-50 लाख रुपये के चेक

    नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा (Lakhimpur Kheri Violence) को लेकर देश का सियासी पारा अब तक गरमाया हुआ है। इस मसले पर लगातार सियासी बयानबाजी जारी है। इन सब के बीच तीन अक्टूबर को हुई हिंसा में मारे गए चार किसानों और पत्रकार से किये गए वादे को पंजाब सरकार ने पूरा किया है। पंजाब सरकार (Punjab Govt) के मंत्री ने हिंसा में मारे गए चार किसानों और एक पत्रकार के परिवार को 50-50 लाख रुपये का चेक सौंप दिया है। 

    बता दें कि पंजाब के कृषि मंत्री रणदीप सिंह नाभा ने लखीमपुर खीरी हिंसा में मारे गए चार किसानों और एक पत्रकार के परिवार को 50-50 लाख रुपये का चेक दिया है। साथ ही उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने हमेशा किसान आंदोलन का समर्थन किया है और उनके साथ हमेशा खड़ी है। पंजाब सरकार के मंत्री ने कहा कि केंद्रीय गृह राज्यमंत्री के बेटे ने अमानवीय घटना की है। उन्होंने कहा कि हम शहीद किसानों और पत्रकार के परिवार को न्याय दिलाने के साथ एक साथ खड़े हैं। 

    गौरतलब है कि यूपी के लखीमपुर खीरी में तीन अक्टूबर को हुई हिंसा में चार किसानों सहित आठ लोगों की मौत हुई थी। मृतक किसानों और पत्रकार के परिवार को चेक देने के बाद नाभा ने मीडिया से बातचीत की। उन्होंने कहा कि किसानों को न्याय मिले इसके लिए हर संभव प्रयास करेंगे। मानव जीवन को वापस नहीं लाया जा सकता है।