Pegasus Case Updates : Uproar over Pegasus in India, Shiv Sena leader Sanjay Raut said - PM Modi should at least listen now
(Photo Credits-ANI Twitter)

    मुंबई: महाराष्ट्र में पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह (Parambir Singh) के लेटर के लीक होने के बाद जो घमासान शरू हुआ वो लगातार जारी है। शिवसेना (Shiv Sena), एनसीपी (NCP) और बीजेपी (BJP) नेताओं की तरफ से सियासी बयानबाजी खूब हो रही है।  इसी बीच शिवसेना सांसद संजय राउत (Shiv Sena MP Sanjay Raut) ने प्रेस वार्ता कर अनिल देशमुख के इस्तीफे सहित तमाम मुद्दों पर बात की। राउत ने इस दौरान शरद पवार (Sharad Pawar) के बयान का समर्थन करते हुए कहा कि अगर सरकार जाँच के लिए तैयार है तो दिक्कत क्या है।

    बता दें कि संजय राउत ने कहा कि अगर राष्ट्रवादी कांग्रेस के प्रमुख(शरद पवार) ने तय किया है कि अनिल देशमुख के ऊपर जो आरोप लगे हैं, उनमें तथ्य नहीं है और उनकी जांच होनी चाहिए तो इसमें गलत क्या है? आरोप सभी नेताओं के ऊपर लगते रहे हैं। सबका इस्तीफा लेकर बैठे तो सरकार चलाना मुश्किल हो जाएगा।   

    संजय राउत की प्रतिक्रिया-

    उल्लेखनीय है कि संजय राउत ने यह भी आरोप लगाया कि सेंट्रल एजेंसियों का गलत इस्तेमाल कर सूबे में राष्ट्रपति शासन लगाने की साजिश भी की जा रही है। जो लोग ऐसा कर रहे हैं उनके लिए ये ठीक नहीं होगा।

    वहीं एनसीपी नेता नवाब मलिक ने कहा कि उच्च अधिकारियों के माध्यम से चिट्ठी की जांच होगी। एक चिट्ठी के आधार पर गृह मंत्री अनिल देशमुख के इस्तीफे की मांग हो रही है। इस्तीफा देने का सवाल नहीं होता है। पार्टी ने निर्णय लिया है कि जांच होने के बाद ही कोई निर्णय लिया जाएगा।