PM Narendra Modi
PM नरेंद्र मोदी

Loading

अंबिकापुर: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कांग्रेस को ‘वोट बैंक की भूखी’ पार्टी करार देते हुए बुधवार को आरोप लगाया कि वह देश में धर्म के आधार पर आरक्षण लागू करना चाहती है। प्रधानमंत्री मोदी ने अंबिकापुर में एक चुनावी सभा में कांग्रेस के घोषणापत्र पर मुस्लिम लीग की छाप होने का आरोप दोहराते हुए कहा कि जब संविधान बन रहा था तब बाबा साहब आंबेडकर के नेतृत्व में यह तय किया गया था कि देश में धर्म के आधार पर आरक्षण नहीं होगा। उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘लेकिन वोट बैंक की भूखी कांग्रेस ने कभी इन महापुरुषों की बातों की परवाह नहीं की, संविधान की पवित्रता की बात नहीं की, बाबा साहब आंबेडकर के शब्दों की परवाह नहीं की।”

प्रधानमंत्री ने दावा किया कि कांग्रेस ने बरसों पहले आंध्र प्रदेश में धर्म के आधार पर आरक्षण देने का प्रयास किया था और उसने कर्नाटक में धर्म के आधार पर आरक्षण लागू भी कर दिया था, लेकिन जब वहां भाजपा सरकार आई तो “हमने कांग्रेस के इस संविधान विरुद्ध निर्णय को उखाड़ कर फेंक दिया।” प्रधानमंत्री ने कहा, ”लेकिन कर्नाटक की कांग्रेस सरकार ने एक और पाप किया। मुस्लिम समुदाय में जितनी भी जातियां हैं, सबको उन्होंने ओबीसी कोटे में डालकर ओबीसी बना दिया। यानी जो हमारे ओबीसी समाज को लाभ मिलता था उसका बड़ा हिस्सा कट गया।”

मोदी ने दावा किया कि कर्नाटक का यही मॉडल कांग्रेस पूरे देश में लागू करना चाहती है। उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस संविधान बदलकर एससी (अनुसूचित जाति), एसटी (अनुसूचित जनजाति), ओबीसी (अन्य पिछड़ा वर्ग) का हक अपने वोट बैंक को देना चाहती है। उन्होंने सभा में मौजूद जनता से कहा कि यदि उनके आरक्षण की कोई रक्षा कर सकता है तो सिर्फ भारतीय जनता पार्टी ही कर सकती है, इसलिए वह भाजपा को भारी समर्थन दें।

प्रधानमंत्री ने कहा, ”कांग्रेस की नजर सिर्फ आपके आरक्षण पर नहीं, बल्कि आपकी कमाई, आपके मकान, दुकान और खेत-खलिहान पर भी है। कांग्रेस के ‘शहजादा’ (राहुल गांधी की ओर इशारा) कहते हैं कि वे हर संपत्ति का एक्स-रे कराएंगे। घर और देश के हर परिवार से कांग्रेस ये सब छीन लेगी। वे कहते हैं कि हम इन्हें समान रूप से वितरित करेंगे। क्या आप जानते हैं कि वे आपसे इसे “लूटने” के बाद इसे किसे वितरित करेंगे?” उन्होंने कहा, “मुझे आपको यह बताने की जरूरत नहीं है कि वे किसे वितरित करेंगे।”

मोदी ने कहा कि कांग्रेस के ‘खतरनाक इरादे’ एक-एक करके सामने आ रहे हैं और अब वह कहती है कि वह विरासत कर लगाएगी। मोदी ने कहा, “वे (कांग्रेस) आपकी संपत्ति और आपके बच्चों के अधिकार छीनना चाहते हैं।” उन्होंने कटाक्ष करते हुए कहा, ”कांग्रेस का मंत्र है- कांग्रेस की लूट जिंदगी के साथ भी, जिंदगी के बाद भी।” प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस का इतिहास सत्ता के लालच में देश को बर्बाद करने का रहा है। उन्होंने कहा, ”देश में आतंकवाद और नक्सलवाद फैला और इसके लिए कौन जिम्मेदार था? कांग्रेस के कुशासन और लापरवाही के परिणामस्वरूप देश बर्बाद हो रहा था। आज भाजपा सरकार नक्सलवाद और आतंकवाद के खिलाफ कड़ी कार्रवाई कर रही है, लेकिन कांग्रेस क्या कर रही है। कांग्रेस हिंसा फैलाने वालों का समर्थन करती रही है।”

मोदी ने दावा किया, “जो लोग आम जनता, पुलिस और सुरक्षा बलों को मारते हैं, अगर वे मर जाते हैं तो कांग्रेस उन्हें शहीद कहती है। कांग्रेस हमारे बहादुर सुरक्षा बलों का अपमान करती है। आतंकवादियों के मारे जाने पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आंसू बहाते हैं। ऐसे कृत्यों के कारण कांग्रेस ने देश का भरोसा खो दिया है।” उन्होंने कहा, ”जब मैं विकसित भारत कहता हूं तब कांग्रेस वालों का और दुनिया में बैठी कुछ ताकतों का माथा गर्म हो जाता है। अगर भारत शक्तिशाली हो गया तो कुछ ताकतों का खेल बिगड़ जाएगा। यदि आज भारत आत्मनिर्भर बन गया तो कुछ ताकतों की दुकान बंद हो जाएगी।”

मोदी ने कहा, “इसलिए वह भारत में कांग्रेस और ‘इंडी’ गठबंधन (विपक्षी दलों का गठबंधन ‘इंडिया’) की कमजोर सरकार चाहते हैं। ऐसी सरकार जो आपस में लड़ती रहे, जो घोटाले करती रहे।” प्रधानमंत्री ने विभिन्न योजनाओं के लिए छत्तीसगढ़ में विष्णु देव साय के नेतृत्व वाली सरकार की सराहना करते हुए कहा, ”जिस तरह से कांग्रेस के ‘घोटालेबाजों’ के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है, उसे पूरा देश देख रहा है।” उन्होंने यह भी कहा कि वह विकसित छत्तीसगढ़ और विकसित भारत के लिए लोगों का आशीर्वाद मांगने आए हैं। प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि वह विकसित छत्तीसगढ़ और विकसित भारत के लिए लोगों का आशीर्वाद मांगने आए हैं। उन्होंने सरगुजा लोकसभा सीट से पार्टी प्रत्याशी चिंतामणि महाराज के पक्ष में वोट मांगा। सरगुजा सीट पर सात मई को मतदान होगा।

(एजेंसी)