मुंबई में कोरोना के बढ़ते कहर के बीच आई एक अच्छी खबर, जानें महपौर किशोरी पेडनेकर क्या कहा..
ANI Photo

    मुंबई: मुंबई (Mumbai) की महापौर किशोरी पेडणेकर ( Mayor Kishori Pednekar) को जान से मारने की धमकी (Death Threats) मिली है। उन्हें एक पत्र (Letter) भेज कर जान से मारने की न केवल धमकी दी गई है, बल्कि अभद्र भाषा का इस्तेमाल भी किया गया है। भायखला पुलिस (Byculla Police) ने एफआईआर (FIR) दर्ज किया है। महापौर किशोरी पेडणेकर इससे पहले 22 दिसंबर 2020 को भी जान से मारने की धमकी दी गई थी। एक अज्ञात व्यक्ति ने फोन पर उन्हें जान से मारने की धमकी दी थी। 

    शुक्रवार को किशोरी पेडणेकर को कूरियर से एक पत्र मिला, जिसमें जान से मारने की धमकी दी गई थी। पत्र में अभद्र भाषा का स्तेमाल किया गया। यह पत्र पनवेल से कूरियर किया गया है। उस पर भेजने का अलग-अलग पता लिखा है। पुलिस ने महापौर का बयान दर्ज किया है। उसके आधार पर एफआईआर दर्ज की गयी है।

    शिवसेना के कई नेता मिलने पहुंचे

    जैसे ही किशोरी पेडणेकर को धमकी की खबर आई। शिवसेना के कई उनसे मिलने के लिए भायखला स्थित महापौर बंगले पर पहुंचे। किशोरी पेडणेकर के खिलाफ कथित रूप से आपत्तिजनक टिप्पणी करने को लेकर बुधवार रात भारतीय जनता पार्टी के विधायक आशीष शेलार के खिलाफ एक प्राथमिकी दर्ज की गई थी। शिवसेना की नेता किशोरी पेडणेकर ने दक्षिण मुंबई में मरीन ड्राइव स्टेशन में शेलार के खिलाफ शिकायत की थी।

     शेलार के खिलाफ एफआईआर करवा कर चर्चा में आई

    पुलिस ने भाजपा नेता के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 354(ए) (द्विअर्थी टिप्पणी करना) और 509 (महिला की गरिमा को ठेस पहुंचाने वाले शब्द या भाव-भंगिमा का इस्तेमाल करना) के तहत मामला दर्ज किया था। आशीष शेलार नौटकी अंदाज में पुलिस स्टेशन में हाजिर हुए और उन्हें पुलिस स्टेशन से जमानत मिल गई।