पीएम मोदी (Photo Credits-ANI Twitter)
पीएम मोदी (Photo Credits-ANI Twitter)

    नई दिल्ली: पीएम मोदी (PM Modi) ने आज प्रधानमंत्री गति शक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्लान (PM Gati Shakti-National Master Plan) को हरी झंडी दी है। इससे लगभग 100 लाख करोड़ रुपये की बुनियादी ढांचा परियोजनाओं के विकास में तेजी आएगी। दरअसल मोदी ने स्वतंत्रता दिवस 2021 के मौके पर इस योजना की घोषणा की थी। मोदी ने इसे लौंच करने के बाद कहा कि भारत के आत्मबल को आत्मनिर्भरता के संकल्प तक ले जाएगा।

    पीएम गति शक्ति-राष्ट्रीय मास्टर प्लान” के अनावरण कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने के कहा कि PM गति शक्ति-राष्ट्रीय मास्टर प्लान 21वीं सदी के भारत को गति शक्ति देगा। अगली पीढ़ी के इंफ्रास्ट्रक्चर और ‘मल्टी मॉडल कनेक्टिविटी’ को इस राष्ट्रीय योजना से गति शक्ति मिलेगी। उन्होंने कहा कि आत्मनिर्भर भारत के संकल्प के साथ हम, अगले 25 वर्षों के भारत की बुनियाद रच रहे हैं। पीएम गति शक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्लान, भारत के इसी आत्मबल को, आत्मविश्वास को आत्मनिर्भरता के संकल्प तक ले जाने वाला है।

    प्रधानमंत्री ने कहा कि आज 21वीं सदी का भारत सरकारी व्यवस्थाओं की पुरानी सोच को पीछे छोड़कर आगे बढ़ रहा है। हमने ना सिर्फ़ परियोजनाओं को तय सीमा में पूरा करने का ‘वर्क कल्चर’ विकसित किया बल्कि आज समय से पहले परियोजनाएं पूरा करने का प्रयास हो रहा है।

    उन्होंने कहा कि हमारे देश में इंफ्रास्ट्रक्चर का विषय ज्यादातर राजनीतिक दलों की प्राथमिकता से दूर रहा है। ये उनके घोषणापत्र में भी नज़र नहीं आता। अब तो ये स्थिति आ गई है कि कुछ राजनीतिक दल, देश के लिए ज़रूरी इंफ्रास्ट्रक्चर के निर्माण पर आलोचना करने में गर्व करते हैं।

    PM ने कहा कि जैसे स्किल मैनपावर के बिना हम किसी भी क्षेत्र में ज़रूरी परिणाम प्राप्त नहीं कर सकते हैं, वैसे ही आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर के बिना हम चौतरफा विकास नहीं कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि 2014 से पहले मेट्रो लगभग 250 किलोमीटर ट्रैक पर ही चल रही थी। आज 700 किलोमीटर तक मेट्रो का विस्तार हो चुका है और एक हज़ार किलोमीटर पर नए मेट्रो रूट का काम चल रहा है।