modi-biden
File Pic

    नयी दिल्ली. एक बड़ी खबर के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) आगामी 24 सितंबर को व्हाइट हाउस (White House) में मुलाकात करेंगे। बता दें कि बाइडेन ने बीते 20 जनवरी 2021 को राष्ट्रपति पद की शपथ ली थी। इसके बाद ऐसा पहली बार होगा जब भारत के प्रधानमंत्री से उनकी आमने-सामने यह मुलाकात होगी।

    हालांकि, दोनों के ही बीच अब तक 3 वर्चुअल मीटिंग्स हो चुकी हैं। वहीं इसी क्रम में व्हाइट हाउस ने बीते सोमवार देर रात इस हफ्ते होने वाली मुलाकात की पुष्टि कर दी है । तय कार्यक्रम के अनुसार प्रधानमंत्री मोदी अब 23 सितंबर को वाइस प्रेसिडेंट कमला हैरिस से भी मुलाकात करेंगे।

    क्या होगा प्रधानमंत्री मोदी का कार्यक्रम 

    इस बाबत विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने कहा कि प्रधानमंत्री अपने संबोधन में ये ज़िक्र ज़रूर करेंगे की संयुक्त राष्ट्र में रिफॉर्म कैसे हो सकता है, इसकी ज़रूरत है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के मुद्दों पर ज़रूर चर्चा होगी। 

    प्रधानमंत्री मोदी के तय कार्यक्रम के विषय में उन्होंने प्रकाश डालते हुए कहा कि प्रधानमंत्री कल सुबह अमेरिका के लिए रवाना होंगे और 26 सितंबर को भारत लौटेंगे। उनके साथ ही विदेश मंत्री, एनएसए सहित एक उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल भी जाएगा। कार्यक्रम के मुख्य तत्व अमेरिकी राष्ट्रपति, क्वाड लीडर्स मीट और यूएनजीए के साथ पहली व्यक्तिगत बैठक होगी।

    इसके साथ ही विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने कहा कि, आगामी 24 सितंबर को अपनी द्विपक्षीय बैठक में, पीएम मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति बिडेन भारत-अमेरिका संबंधों की समीक्षा करेंगे। उनसे व्यापार और निवेश संबंधों को मजबूत करने, रक्षा और सुरक्षा सहयोग को मजबूत करने, स्वच्छ ऊर्जा साझेदारी को बढ़ावा देने के बारे में चर्चा करने की उम्मीद है।

    सुरक्षा पर भी होगी चर्चा 

    इसके साथ ही विदेश मंत्रालय के मुताबिक, क्वॉड की इस महत्वपूर्ण मीटिंग में कई अहम मसलों पर भी चर्चा होगी। इनमें नई टेक्नोलॉजी, सायबर सिक्योरिटी, समुद्र सुरक्षा, मानवीय सहायता और डिजास्टर मैनेजमेंट के अलावा क्लाइमेट चेंज जैसे महत्वपूर्ण और जरुरी मुद्दे भी शामिल होंगे। वहीं अब इस बैठक में चीन के रवैये को लेकर किसी कारगर रणनीति पर भी जरुरी विचार किया जा सकता है। बता दें कि क्वॉड देशों के लिए चीन फिर से एक साझा चुनौती पेश कर रहा है।