नवजोत सिंह सिद्धू (Photo Credits-Video Grab)
File

    नई दिल्ली: पंजाब में कांग्रेस (Punjab Congress) के भीतर जारी घमासान अभी खत्म नहीं हुआ है। नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) के इस्तीफे के बाद नया संग्राम शुरू है। इसी बीच सिद्धू ने एक वीडियो जारी कर पहली प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि वह अपने मुद्दों से समझौता नहीं कर सकते हैं और हक और सच की लड़ाई आखिरी दम तक लड़ते रहेंगे। 

    नवजोत सिंह सिद्धू ने अपने ट्विटर अकाउंट से एक वीडियो संदेश जारी कर कहा कि प्यारे पंजाबियों, 17 साल का राजनीतिक एक मकसद के साथ मैंने किया है। मेरा मकसद सूबे के लोगों की जिंदगी को बेहतर बनाना है। उन्होंने कहा कि ये मेरी कोई निजी लड़ाई नहीं है। मेरी लड़ाई मुद्दों की है। मै अपने हक और सच की लड़ाई लड़ता रहूंगा। इससे कोई समझौता मै नहीं करने वाला नहीं हूं। 

    इस्तीफे के बाद नवजोत सिंह सिद्धू का पहला वीडियो संदेश-

    सिद्धू ने आगे कहा कि मेरे पिता ने मुझे हमेशा सिखाया है कि जहां भी दिक्कतें आएं तो सच की लड़ाई लड़ो। उन्होंने कहा कि मै हाईकमान को गुमराह नहीं कर सकता हूं और ना ही होने दे सकता हूं। पंजाब के लोगों के लिए मैं किसी भी चीज की कुर्बानी दे सकता हूं।

    गौर हो कि नवजोत सिद्धू ने मंगलवार को पंजाब कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। कहा जा रहा है कि वह सरकार में कुछ मंत्रियों की नियुक्ति, एडवोकेट जनरल के पद को लेकर खुश नहीं थे। उन्होंने इसका विरोध भी किया लेकिन चरणजीत सिंह चन्नी ने नहीं सुनी। जिसके बाद उन्होंने इस्तीफा दे दिया।