rajasthan
Pic: ANI

    नई दिल्ली. जहां एक तरफ पहाड़ी राज्यों में बर्फबारी से अब देश के मैदानी इलाकों में ठंड जोर पकड़ रही है। वहीं उत्तर भारत (North India) में भी इस ठंड का असर दिखाने लगा है। इस बर्फ़बारी से UP, दिल्ली, बिहार, झारखंड, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, जम्मू और कश्मीर सहित उत्तर भारत के कई राज्यों में तापमान में गिरावट दर्ज की जा रही है। वहीं शीतलहर से अब लोगों को परेशान करने वाली है। 

    मौसम विभाग की मानें तो उत्तर भारत में अब और भी  ठंड बढ़ने के आसार हैं। वहीं दूसरी तरफ देश के दक्षिण राज्यों में बारिश की अपार संभावना नजर आ रही है। इधर राजधानी दिल्ली में अधिकतम तापमान मौसम के सामान्य से 3 डिग्री अधिक 27.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ है, जबकि वायु गुणवत्ता ‘बहुत खराब’ श्रेणी में दर्ज की गयी है। 

    ऐसे में मौसम विभाग की मानें तो आज यानी शनिवार को आसमान मुख्यतः साफ रहेगा, हालांकि सुबह हल्का कोहरा रहेगा। अधिकतम और न्यूनतम तापमान यहां 27 और 8 डिग्री सेल्सियस के आसपास होने की संभावना है। मौसम विभाग के अनुसार, उत्तर पश्चिम भारत के कई हिस्सों में मुख्य रूप से पश्चिमी विक्षोभ की संभावित गतिविधि के कारण फिलहाल दिल्ली में सर्दी कम रहेगी।

    पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी

    अब ताप्गिरने से और पहाड़ों पर बर्फबारी से यहां कड़ाके की ठंडक महसूस होने लगी है। अब हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और जम्मू कश्मीर के कुछ इलाको में बर्फबारी के आसार भी दिख रहे हैं। यहां मौसम विभाग ने आगामी दो-तीन दिनों में तापमान में और गिरावट की संभावना जतायी है।

    दक्षिण राज्यों में भारी बारिश

    वहीं मौसम विभाग की मानें तो तमिलनाडु, केरल, लक्षद्वीप और कर्नाटक में अगले 3-4 दिनों तक घनघोर बारिश की संभावना है। इतना ही नहीं, 3 दिसंबर को तमिलनाडु में भारी बारिश की संभावना मौसम विभाग की ओर से व्यक्त की गयी है। इस्काए साथ ही कल यानी रविवार को दक्षिण अंडमान सागर में एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र उभरने की संभावना है जिसके प्रभाव में 5 दिसंबर के आसपास दक्षिण-पूर्व बंगाल की खाड़ी और इससे सटे दक्षिण अंडमान सागर के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र बनने के बड़े आसार हैं।

    UP-बिहार में होगी ठंड

    बिहार और उत्तर प्रदेश में पछुआ हवा का प्रकोप बढ़ गया है जिससे ठंड बढ़ी है। आने वाले दिनों में कंपकंपी और बढ़ने की संभानवा है। इस प्रकार से उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और झारखंड में भी ठंड बढ़ चुकी है। अत्यधिक ठंडी हवाओं के चलते शाम और सुबह के वक्त लोगों को ठिठुरन का भी एहसास हो चला है।