On targeted killings in Jammu and Kashmir, Congress said – full statehood should be restored, fair elections should be held
Representative Photo

    नई दिल्ली: कांग्रेस (Congress) ने जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में हाल के दिनों में आतंकवादियों (Terrorism) द्वारा कई आम लोगों की हत्या (Murder) किए जाने को लेकर बुधवार को केंद्र सरकार पर स्थिति संभालने में विफल रहने का आरोप लगाया और कहा कि इस केंद्र शासित प्रदेश का पूर्ण राज्य का दर्जा बहाल हो तथा निष्पक्ष ढंग से चुनाव कराया जाए ताकि वहां लोकतांत्रिक ढंग से निर्वाचित सरकार राज्य को चलाए।

    पार्टी प्रवक्ता गौरव वल्लभ ने यह सवाल भी किया कि गृह मंत्री अमित शाह इस मामले पर चुप क्यों हैं? उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘जम्मू-कश्मीर में पिछले दो सप्ताह में 32 लोगों की हत्या हुई है। हमारे नौ जवान शहीद हो गए हैं। आज लोगों से उनके प्रांत पूछकर हत्या की जा रही है। ऐसा पहले कभी नहीं हुआ। इसे मैं ‘सैलेक्टिव मर्डर” कहूंगा। इस स्थिति में गृह मंत्री का कोई बयान नहीं आया। लगता है कि वह अपने गृह राज्य को बचाने में पूरा समय लगा रहे हैं।”

    वल्लभ ने आरोप लगाया, ‘‘केंद्र सरकार ना तो जम्मू-कश्मीर के मुद्दे को समझने में समक्ष है और न ही स्थिति से निपटने में सक्षम है।” उन्होंने यह दावा भी किया कि जम्मू-कश्मीर में बेरोजगारी के मामले में नंबर एक पर पहुंच चुका है, जबकि केंद्र की ओर से बहुत बड़े-बड़े वादे किए गए थे।

    कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, ‘‘हमारी मांग है कि सबसे पहले जम्मू-कश्मीर को पूर्ण राज्य का दर्जा दिया जाए। केंद्र सरकार से स्थिति संभल नहीं रही है। ऐसे में पूर्ण राज्य का दर्जा मिलना चाहिए। निष्पक्ष ढंग से चुनाव कराये जाएं ताकि लोकतंत्राकि ढंग से सरकार चल सके।” उन्होंने यह भी कहा, ‘‘जो लोग वहां से पलायन कर रहे हैं तो उनको उनके गृह स्थान पर रोजगार के साधन मुहैया कराया जाएं और आर्थिक मदद दी जाए।” (एजेंसी)