rawat

    नई दिल्ली/देहरादून. सुबह की बड़ी खबर के अनुसार उत्तराखंड चुनाव (Uttrakhand) से पहले अब हरक सिंह रावत (Harak Singh Rawat) और पुत्रवधू अनुकृति (Anukruti) ने कांग्रेस की विधिवत सदस्यता ले ली है। वहीं कांग्रेस (Congress) में शामिल होने के बाद उन्होंने कहा कि, ” इससे बड़ी माफी क्या हो सकती है कि प्रदेश में 10 मार्च को पूर्ण बहुमत से कांग्रेस की सरकार बनेगी तो मुझे लगेगा कि मैंने माफी मांग ली। उस दिन मुझे सबसे ज़्यादा खुशी होगी। अमित शाह ने कहा था कि दोस्ती नहीं टूटनी चाहिए मैंने अंतिम समय तक दोस्ती नहीं तोड़ी।’  

    गौरतलब है कि बीजेपी ने बीते 16 जनवरी को  हरक सिंह रावत को 6 साल के लिए निष्कासित कर दिया था। दरअसल अनुशासनहीनता के चलते रावत को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित कर दिया गया था। इस बीच, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने भी रावत को मंत्रिपरिषद से बर्खास्त कर दिया था।

    ऐसी भी बात निकल कर आ रही थी कि, पौड़ी गढ़वाल जिले की कोटद्वार विधानसभा सीट से विधायक रावत अपनी सीट बदलने के साथ ही अपनी पुत्रवधू अनुकृति के लिए भी BJP से टिकट मांग रहे थे। यूँ भी समझा जाता है कि इन मुद्दों परBJPके राजी न होने पर और उनके कांग्रेस में शामिल होने की अटकलों के बीच उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया गया था।