राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति ने मणिपुर में असम राइफल्स के दस्ते पर हमले की निंदा की

    नयी दिल्ली. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ram Nath Kovind) और उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू (M. Venkaiah Naidu) ने मणिपुर (Manipur) में असम राइफल्स (Assam Rifles) के एक दस्ते पर शनिवार को हुए उग्रवादी हमले की कड़ी निंदा (condemn) करते हुए कहा कि ऐसे कायरतापूर्ण कृत्य से आतंकवाद के हर स्वरूप को समाप्त करने का हमारा संकल्प और मजबूत होता है।

    राष्ट्रपति भवन ने राष्ट्रपति कोविंद के हवाले से ट्वीट किया, “मणिपुर में असम राइफल्स के काफिले पर हमले में हमारे सैनिकों और उनके परिवार के सदस्यों की शहादत हुई है और यह घटना निंदनीय है।”

    उन्होंने कहा कि इस कायरतापूर्ण कृत्य से आतंक के हर स्वरूप को समाप्त करने का हमारा संकल्प और मजबूत होता है। राष्ट्रपति ने कहा कि इस दुख की घड़ी में हम पीड़ित परिवारों के साथ हैं।

    वहीं, उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने कहा कि वह मणिपुर में आज कमांडिंग अफिसर और उनके परिवार के दो सदस्यों सहित असम राइफल्स के पांच बहादुर जवानों की शहादत से काफी दुखी हैं। उन्होंने कहा, “मेरी संवेदनाएं पीड़ित परिवारों के सदस्यों के साथ हैं। हम आतंकवाद के इस जघन्य कृत्य की कड़ी निंदा करते हैं।”

    गौरतलब है कि मणिपुर में इस हमले में 46, असम राइफल्स के कमांडिंग अफसर सहित पांच जवानों और उनके परिवार के दो सदस्यों की मौत हो गई। यह घटना म्यांमा सीमा से लगे चुराचांदपुर जिले में घटी।

    अलग ‘होमलैंड’ की मांग करने वाले मणिपुर के उग्रवादी संगठन ‘पीपुल्स रिवोल्यूशनरी पार्टी ऑफ कंगलीपाक’ (पीआरईपीएके) को इस हमले का जिम्मेदार माना जा रहा है। इस हमले में ‘आईईडी’ विस्फोटकों का इस्तेमाल किया गया। (एजेंसी)