हरप्रीत सिंह: BJP का वह ‘पोस्टर किसान’ जो खुद ‘कृषि कानूनों’ के खिलाफ बैठा है सिंघु बॉर्डर पर

  • Harpreet Singh

नयी दिल्ली. जहाँ मोदी सरकार (Narendra Modi) द्वारा लाये गए नए विवादस्पद कृषि कानूनों के खिलाफ किसान संगठनों (Farmers Protest) का आंदोलन चरम पर है। वहीं इन सबके बीच BJP ने एक पोस्टर जारी कर यह बताया था कि पंजाब में न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) से किसान बहुत खुश हैं। लेकिन अब हो यह रहा है कि इस पोस्टर में जिस एक खुशहाल किसान की तस्वीर भी लगाई गई थी, उसका नाम है हरप्रीत सिंह(Harpreet Singh), जो खुद कृषि कानूनों के विरोध में धरने पर बैठा है।

क्या है मामला:

दरअसल न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) को लेकर पंजाब BJP ने जिस हरप्रीत सिंह को पोस्टर पर बतौर खुशहाल किसान पेश किया है, वो खुद भी सिंघु बॉर्डर पर कृषि कानूनों के विरोध में धरने पर बैठा है। हरप्रीत सिंह के इस पोस्टर को लेकर सोशल मीडिया में खूब बवाल तो मचा ही वहीं इस मुद्दे पर पंजाब BJP भी अब सकते में है। इसके बाद पंजाब बीजेपी ने पोस्टर को अपने फेसबुक पेज से डिलीट भी कर दिया है।

किसान हरप्रीत का BJP पर यह आरोप:

इस मुद्दे पर किसान हरप्रीत सिंह का कहना है कि पंजाब बीजेपी ने उनकी एक 6-7 साल पुरानी तस्वीर का इस्तेमाल अपने इस पोस्टर में किया है। उनका आरोप था कि, “मुझसे बिना पूछे BJP ने मेरी फोटो का इस्तेमाल किया, जबकि मैं खुद यहाँ सिंघु बॉर्डर पर डटा हुआ हूं और नए कृषि कानूनों के खिलाफ भी प्रदर्शन कर रहा हूं।” हरप्रीत का यह भी कहना है कि कोई भी किसान नए ‘कृषि कानूनों’ से खुश नहीं है। मोदी सरकार के लोग खुद कभी भी सिंघु बॉर्डर पर नहीं आये  और न ही यह जानने की कोशिश की क्यों किसान इन कानूनों का विरोध कर रहा है। किसान इस नए कृषि कानूनों को सिरे से खारिज कर रहे हैं और उनका रोष बढ़ता ही जा रहा है।

 

Pic Courtsey :
Harp Farmer

पंजाब के होशियारपुर जिले के हरप्रीत ने यह भी कहा कि सरकार भले ही कह रही हो कि ये कानून किसानों के फायदे के लिए हैं, लेकिन हम जानते हैं कि यह हमारे लिए नुकसान का सौदा है। अब हम वापस तभी जाएंगे, जब इन तीनों कृषि कानूनों को वापस ले लिया जाएगा। इधर हरप्रीत सिंह के फोटो के इस्तेमाल को लेकर खुद पंजाब बीजेपी अध्यक्ष  अश्विनी शर्मा का कहना है कि उन्हें जानकारी है और वे इसपर जांच कर के ही कुछ बता पाएंगे।