Picture Credit: Twitter
Picture Credit: Twitter

    नई दिल्ली. भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने शनिवार को कहा कि अगले 24 घंटों में पश्चिमी तट पर बारिश (Rain) की तीव्रता कम होने के आसार हैं जिससे वर्षा से प्रभावित महाराष्ट्र (Maharashtra)और गोवा (Goa) को राहत मिल सकती है।

    आईएमडी के मुताबिक, 25 जुलाई से उत्तर भारत के मैदानी इलाकों और पर्वतीय क्षेत्रों में बारिश की गतिविधियां बढ़ेंगी। आईएमडी ने कहा, “अगले 24 घंटों के दौरान कोंकण, गोवा और पास में महाराष्ट्र के अंदरूनी इलाकों सहित पश्चिमी तट पर वर्षा की तीव्रता में और कमी आने की संभावना है।” उसने कहा कि महाराष्ट्र समेत पश्चिम तट के कुछ हिस्सों में 24 जुलाई को भारी बारिश होने की संभावना है।

    पिछले कुछ दिनों में महाराष्ट्र में अत्यधिक भारी बारिश ने कई लोगों की जान ले ली है तथा कई इलाके जलमग्न हो गए हैं और संपत्ति को नुकसान पहुंचा है। आईएमडी ने कहा कि जुलाई तक गुजरात में तेज बारिश होने की संभावना है तथा कुछ इलाकों में भारी वर्षा हो सकती है और इसके बाद वर्षा में कमी के आसार हैं। उसके मुताबिक, पूर्वी राजस्थान में 26 जुलाई तक तेज बारिश होने के आसार हैं जबकि कुछ-कुछ इलाकों में भारी बारिश की संभावना है और इसके बाद वर्षा कम होगी।

    आईएमडी ने बताया कि, 25 से 28 जुलाई के दौरान उत्तराखंड में बारिश होने की संभावना है और कहीं-कहीं भारी बारिश हो सकती है। वहीं हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में 26-28 जुलाई को और पंजाब तथा पूर्वी उत्तर प्रदेश में 27-28 जुलाई को बारिश के आसार हैं। उसने कहा कि 27 और 28 जुलाई को हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में कहीं-कहीं अत्याधिक भारी बारिश हो सकती है। (एजेंसी)