Photo Credit tiwtter_ANI
Photo Credit tiwtter_ANI

    मुंबईः महाराष्ट्र में चल रहे सियासी भूचाल के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर थमने का नाम नही ले रहा है। महाराष्ट्र के नेताओं का जुबानी जंग और विकराल रूप ले रहा है। सांसद संजय राउत के भाई सुनील राउत ने बड़ी बात कही है। शिवसेना विधायक सुनील राहत ने कहा कि, मैं गुवाहाटी क्यों जाऊं? मैं गोवा जा सकता हूं। गुवाहाटी में क्या गद्दारों का चेहरा देखने जाऊंगा। मैं शिवसेना का आदमी हूं। मैं अपने आखिरी क्षण तक शिवसेना में ही रहूंगा और शिवसेना का ही काम करूंगा। शिवसेना पार्टी में अब जितने लोग बचे हैं या बचे रहेंगे हम उनको ही साथ लेकर महाराष्ट्र में शिवसेना को आगे बढ़ाएंगे। शिवसेना पार्टी को फिर उच्च शिखर तक पहुंचाएंगे।

    उधर दूसरी तरफ शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत बागी विधायकों को बुरा-भला कहने में कोई कसर नही छोड़ रहें हैं। उन्होंने कहा कि, जो लोग 40-40 साल तक पार्टी में रहते हैं और फिर भाग जाते हैं, उनका ज़मीर मर गया है, तो उसके बाद क्या बचता ही क्या है? वे सिर्फ ज़िंदा लाश की तरह हैं। यह हमारे आदरणीय राममनोहर लोहिया साहब के शब्द हैं। मैंने किसी की भावना को ठेस पहुंचाने का काम नहीं किया, मैंने सत्य कहा है और अपने विचार पर मैं अटल हूं।

    आपको बता दें कि, शिवसेना के बागी नेता एकनाथ शिंदे ने आगे की रणनीति पर चर्चा के लिए फिर आज दोपहर 2 बजे गुवाहाटी के होटल में बैठक बुलाई है। दूसरी तरफ ठाणे और अन्य जगह शिवसैनिको द्वारा हिंसक आंदोलन को देखते हुए शिवसेना के बागी नेता एकनाथ शिंदे के आवास के बाहर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। जिससे किसी भी अप्रिय घटना को घटित होने से रोका जा सके।