Sanjay Singh Anita Singh

Loading

नई दिल्ली: शराब “घोटाला” मामले में आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह को उच्चतम न्यायालय द्वारा मंगलवार को जमानत दिए जाने के बाद उनकी पत्नी अनीता सिंह ने कहा कि उनके तीन “भाइयों” अरविंद केजरीवाल, मनीष सिसोदिया और सत्येंद्र जैन के अब भी सलाखों के पीछे होने के कारण खुशियां अधूरी हैं। सिंह की जमानत को “सच्चाई की जीत” करार देते हुए उनकी पत्नी ने कहा कि आप तब जश्न मनाएगी, जब उसके सभी नेता मामले में रिहा होंगे।

अनिता सिंह ने संवाददाताओं से बात करते हुए कहा, “जब तक मेरे तीनों भाई अरविंद जी, मनीष सिसोदिया और सत्येंद्र जैन हिरासत से बाहर नहीं आ जाते, ये खुशी अधूरी है। ये सत्य की जीत है। मुझे न्यायिक प्रक्रिया पर पूरा भरोसा था।” उन्होंने कहा, “यह जश्न मनाने का सही मौका नहीं है। जब मेरे सभी भाई बाहर होंगे, तो हम एक साथ जश्न मनाएंगे।”

यह पूछे जाने पर कि क्या शराब घोटाले में ‘आप’ के शीर्ष नेताओं के फंसने से पार्टी की राजनीति में उथल-पुथल मची हुई है, तो इसपर अनीता सिंह ने कहा, “आम आदमी पार्टी की राजनीति को कोई खतरा नहीं है। मेरे भाई जेल से बाहर आ जायेंगे। संजय जी पहले ही बाहर हैं। हम अब उनका इंतजार कर रहे हैं।” उच्चतम न्यायालय से जमानत मिलने के बाद सिंह के आवास पर जश्न मनाया गया तथा उनके परिवार के सदस्यों और समर्थकों ने लोगों के बीच मिठाइयां बांटीं।