Photo: @ANI/ Twitter
Photo: @ANI/ Twitter

Sheena Bora murder: Indrani Mukerjea came out of Byculla jail after 6 years, said- 'I am very happy'

    मुंबई: चर्चित शीना बोरा हत्याकांड (Sheena Bora Murder Case) की मुख्य आरोपी इंद्राणी मुखर्जी (Indrani Mukerjea) छह साल से अधिक की सजा काटकर शुक्रवार को भायखला जेल (Byculla Jail) से बाहर आ गई। इससे पहले, सीबीआई अदालत ने उन्हें 2 लाख रुपये के नकद मुचलके पर रिहा करने की अनुमति दे दी है। इंद्राणी को दो सप्ताह के भीतर राशि जमा करनी होगी

    अपनी ही बेटी की हत्या की सजा काटकर बाहर आने के बाद मुखर्जी ने कहा, “मैं बहुत खुश हूं।” उन्होंने कहा, “मैं अभी घर जा रही हूं… सहानुभूति और क्षमा… मैंने उन सभी लोगों को माफ कर दिया है जिन्होंने मुझे चोट पहुंचाई है। मैंने जेल में बहुत कुछ सीखा है।”

    इंद्राणी मुखर्जी मुंबई में अपने घर पहुंच गई हैं। विशेष सीबीआई अदालत द्वारा 2 लाख रुपये के मुचलके पर जमानत दिए जाने के एक दिन बाद उसे आज शाम को भायखला जेल से रिहा कर दिया गया।

    2012 में  की गई हत्या 

    जानकारी के लिए बता दें कि, 24 वर्षीय शीना बोरा इंद्राणी की पहले पति से जन्मी संतान थी। इंद्राणी मुखर्जी अपनी बेटी शीना बोरा की हत्या के मामले में मुख्य आरोपी है। शीना बोरा का 20 अप्रैल 2012 में कार में बोरा का गला घोंटकर हत्या कर दी गई और शव को पड़ोसी रायगढ़ जिले में ठिकाने लगा दिया गया।  उसकी डेड बॉडी मुंबई के बाहरी इलाके में एक गड्ढे में मिली थी। वर्ष 2015 में हत्या का खुलासा होने के बाद मुंबई पुलिस ने इंद्राणी के अलावा उसके चालक श्यामवर राय और पूर्व पति संजीव खन्ना को भी गिरफ्तार किया। इसके बाद मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी गई थी।