K Annamalai
Pic : Twitter

Loading

चेन्नई: चेन्नई: तमिलनाडु (Tamil Nadu) में पिछले कई दिनों से माहौल खराब चल रहा है। यहां पलायन की स्थिति बनी हुई है। बताया जा रहा है कि  तमिलनाडु के स्थानीय लोग यूपी-बिहार (UP Bihar)सहित उत्तर भारतीय लोगों के साथ मारपीट कर रहे हैं। इसके कई वीडियो सोशल मीडिया (social media) पर भी देखने को मिल रहे हैं। हालात बिगड़ने के बाद तमिलनाडु सरकार ने कहा है कि यहां माहौल ठीक है। प्रवासी श्रमिकों के मुद्दे पर चेन्नई पुलिस ने कहा कि CCB साइबर क्राइम डिवीजन में धारा 153, 153A(1)(a),505(1)(b) IPC 505(1)(c) IPC के तहत बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष अन्नामलाई (Annamalai) के खिलाफ हिंसा भड़काने और दो के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देने का मामला दर्ज किया है।   

तमिलनाडु के राज्यपाल आरएन रवि (Governor RN Ravi) ने तमिलनाडु में उत्तर भारतीय मजदूरों से घबराने और असुरक्षित महसूस न करने का आग्रह किया। उनका कहना है कि तमिलनाडु के लोग बहुत अच्छे और मिलनसार हैं। उत्तर भारतीय मजदूरों को  राज्य सरकार  सुरक्षा प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है।  

तिरुपुर एक्सपोर्टर्स एसोसिएशन के केएम सुब्रमण्यन ने कहा कि आज हमने प्रवासी मजदूरों के मुद्दे पर एक उच्च स्तरीय समिति के साथ बैठक की है। सोशल मीडिया पर कुछ लोगों द्वारा फेक न्यूज फैलाई जा रही है। स्थानीय और प्रवासी मजदूरों के बीच अच्छे संबंध हैं। प्रवासियों पर कथित हमलों के मुद्दे पर पुलिस और तिरुपुर प्रशासन ने व्यापार और उद्योग संघों और प्रवासी श्रमिकों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की।  

जानकारी के अनुसार 14 जनवरी को चाय की दुकान पर स्थानीय युवक उत्तर भारतीय पर सिगरेट का धुआं छोड़ रहे थे। विवाद हुआ तो उत्तर भारतीय जुटे और स्थानीय लोगों को दौड़ा दिया। स्थानीय लोगों ने वीडियो वायरल कर दिया। तमिल संगठनों ने बताया कि उत्तर भारतीय तमिलों को मार रहे हैं। इसके बाद ये तमिल गौरव का मुद्दा बन गया। तमिलानाडु में कथित रूप से उत्तर भारत के मजदूरों को निशाना बनाए जाने की घटनाओं के बीच तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने बिहार के सीएम नीतीश कुमार से बातचीत की।