पश्चिम बंगाल BJP के अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने संदेशखाली थाने के बाहर शुरू किया धरना

Loading

कोलकाता: भारतीय जनता पार्टी (BJP) की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष सुकांत मजूमदार (Sukanta Majumdar) ने तृणमूल कांग्रेस (TMC) के फरार नेता शाहजहां शेख की गिरफ्तारी की मांग को लेकर संदेशखाली थाने के बाहर धरना शुरू किया। स्थानीय लोगों ने शेख पर ‘अत्याचार’ करने का आरोप लगाया था, जिसके बाद से वह फरार है। मजूमदार को बृहस्पतिवार को संदेशखाली जाने की इजाजत दी गयी थी। संदेशखाली में प्रवेश करने की कोशिश के दौरान टाकि के समीप एक प्रदर्शन के दौरान चोट लगने के आठ दिन बाद पुलिस ने मजूमदार को उत्तर 24 परगना जिले के संकटग्रस्त इलाके में जाने की इजाजत दी।

इलाके में पार्टी नेताओं के साथ मुलाकात के बाद मजूमदार सीधा संदेशखाली थाने पहुंचे और कुछ देर बाद ही उन्होंने थाने के बाहर धरना शुरू कर दिया। राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी के दौरान उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ”जब तक शाहजहां शेख को गिरफ्तार नहीं किया जाता तब तक मेरा धरना जारी रहेगा। इतने दिन बीतने के बाद भी पुलिस उसे गिरफ्तार करने में नाकाम रही है।”

मजूमदार ने कहा कि वह स्थानीय पुलिस अधिकारियों से मिलना चाहते थे लेकिन उन्हें इजाजत नहीं दी गयी, जिसके बाद उन्होंने अनिश्चितकालीन धरना शुरू करने का फैसला किया। इससे पहले पुलिस ने मजूमदार को संदेशखाली जाने की इजाजत दी, जहां महिलाओं से कथित यौन उत्पीड़न और जमीन पर कब्जा करने को लेकर स्थानीय निवासी प्रदर्शन कर रहे हैं।

पुलिस ने मजूमदार को इस शर्त पर संदेशखाली जाने की इजाजत दी थी कि उनके साथ सिर्फ सुरक्षाकर्मी ही जा सकते हैं और भाजपा का कोई अन्य नेता उनके साथ नहीं जाएगा। इस शर्त पर नाखुशी जाहिर करने के बाद भी भाजपा नेता को पुलिस की बात मानने के लिए मजबूर होना पड़ा। पुलिस के एक अधिकारी को यह कहते हुए सुना गया कि आप संदेशखाली जा सकते हो। लेकिन आपके साथ सिर्फ हमारे सुरक्षाकर्मियों को जाने की इजाजत होगी और भाजपा का कोई नेता आपके साथ नहीं जाएगा।

(एजेंसी)