श्रीनिवासुलु रेड्डी
श्रीनिवासुलु रेड्डी

Loading

अमरावती: आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई.एस. जगन मोहन रेड्डी (Jagan Mohan Reddy) की पार्टी को एक और झटका लगा है। नाराज चल रहे ओंगोल से लोकसभा सदस्य मगुंटा श्रीनिवासुलु रेड्डी (Srinivasulu Reddy) ने ‘आत्मसम्मान’ का हवाला देते हुए बुधवार को अपना इस्तीफा (Resigned) दे दिया। आंध्र प्रदेश में सत्तारूढ़ युवजन श्रमिक रायथू कांग्रेस पार्टी (वाईएसआरसीपी) से इस्तीफा देने वाले ये छठें सांसद हैं।   

अपना त्यागपत्र देने के बाद श्रीनिवासुलु रेड्डी ने कहा कि मगुंटा परिवार और उसके सभी सदस्यों में आत्मसम्मान है, लेकिन अहंकार नहीं है। उन्होंने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा “हर समय अपने आत्मसम्मान की रक्षा करना महत्वपूर्ण है। कुछ अपरिहार्य परिस्थितियों के कारण हमें वाईएसआरसीपी से इस्तीफा देना पड़ा। यह एक दुखद घटना है लेकिन मैं वाईएसआरसीपी से इस्तीफा दे रहा हूं। जब आत्मसम्मान की बात आती है तो आपको यह बताना महत्वपूर्ण है।” 

 

इसके अलावा, उन्होंने कहा कि उनके बेटे एम राघव रेड्डी ओंगोल से आगामी लोकसभा चुनाव लड़ेंगे। उन्होंने पिछले पांच वर्षों में सहयोग देने के लिए वाईएसआरसीपी प्रमुख और मुख्यमंत्री वाई. एस. जगन मोहन रेड्डी को धन्यवाद दिया।

श्रीनिवासुलु रेड्डी का इस्तीफा पांच और सांसदों के वाईएसआरसीपी छोड़ने के बाद आया है। इससे पहले बालाशोवरी वल्लभनेनी (मछलीपट्टनम), के रघु रामकृष्ण राजू (नरसापुरम), एल. श्री कृष्ण देवरायलु(नरसरावपेट), संजीव कुमार (कर्नूलु) और वी प्रभाकर रेड्डी (राज्यसभा सदस्य) वाईएसआरसीपी छोड़ चुके हैं।  

— एजेंसी इनपुट के साथ