24 घंटे चल रही नमूनों की जांच

    जलगांव. जिला कलेक्टर और आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अध्यक्ष अभिजीत राउत (Abhijeet Raut) ने सरकारी मेडिकल कॉलेज और अस्पताल का दौरा किया और माइक्रोबायोलॉजी विभाग में चल रहे कोरोना वायरस (Coronavirus) के नमूना परीक्षण कार्य की समीक्षा की। जिले में कोरोना मरीजों (Corona Patients) की संख्या बढ़ रही है। सरकार और जिला प्रशासन कोरोना को नियंत्रित करने की कोशिश कर रही है। वायरल डायग्नोसिस एंड रिसर्च लेबोरेटरी यहां के सरकारी मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में माइक्रोबायोलॉजी विभाग में कार्यरत है। 

    मेडिकल कॉलेज तथा अस्पताल के मुख्यकार्यकारी अधिकारी डॉक्टर बी एन पाटिल ने कहा कि कोरोना संक्रमण में प्रयोगशाला एक महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है और दिन-रात इसमें परीक्षणों का काम और  24 घंटे नमूनों की जांच कर जल्द निदान करने में सहायता मिल रही हैं।इस प्रयोगशाला में अभी तक 1 लाख 75 हजार कोरोना नमूनों की संख्या पहुंच गई है। उन्होंने कहा कि युद्धस्तर पर कार्य चल रहा है।

    लंबित नमूनों पर हुई चर्चा

    कलेक्टर राउत ने प्रयोगशाला का निरीक्षण कर समीक्षा की। इस बैठक में मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. बी. एन. पाटील, प्रभारी अधिष्ठाता डॉ. मारोती पोटे, जिला शल्यचिकित्सक डॉ. एन. एस. चव्हाण, जिला सूचना व विज्ञान अधिकारी प्रमोद बोरोले मौजूद थे। इस समय लंबित नमूनों की रिपोर्ट पर चर्चा की गई। डीएम ने कठिनाइयों को समझने पर विभिन्न सुझाव दिए। उन्होंने प्रयोगशाला में जनशक्ति मनुष्य बल की उपलब्धता के बारे में पूछताछ की। उनके काम के बारे में भी जानकारी ली।

    तकनीकी समस्याओं को दूर करने मार्गदर्शन

    कुछ रिपोर्ट तकनीकी कारणों से लंबित हैं। प्रमोद बोरोले ने जिला कलेक्टर सीईओ के साथ तकनीकी मुद्दों को दूर करने के लिए मार्गदर्शन प्रदान किया। इस समय चिकित्सा अधीक्षक डॉ. प्रशांत देवरे, उप चिकित्सा अधीक्षक डॉ. संगीता गावित व डॉ. विलास मालकर, डॉ. इम्रान पठान, डॉ. योगिता बावस्कर, डॉ. चेतन भंगाले आदि मौजूद रहे।